18 AUGSUNDAY2019 2:25:11 AM
Nari

Health Alert: हाई बीपी मरीज के लिए खतरनाक है स्ट्रेस, ऐसे करें बचाव

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 30 Apr, 2019 11:16 AM
Health Alert: हाई बीपी मरीज के लिए खतरनाक है स्ट्रेस, ऐसे करें बचाव

हाई बीपी (Blood Pressure) : काम का प्रैशर ज्यादा होने के कारण आजकल कोई स्ट्रेस से गुजर रहा है। इतना ही नहीं, वर्क प्रैशर के चलते लोग डिप्रेशन व तनाव का शिकार भी हो जाते हैं लेकिन अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज है तो यह आपके लिए जानलेवा साबित हो सकता है। जी हां, हाल ही में हुए एक शोध के अनुसार, काम का बोझ से हाई ब्लड प्रैशर के मरीजों में दिल के रोगों और मौत का खतरा 3 गुना बढ़ जाता है।

 

हाई बीपी से 3 गुणा बढ़ जाता है हार्ट डिसीज का खतरा

इस अध्ययन में 25 से 65 साल के ऐसे लोगों ने भाग लिया, जिन्हें हाई बीपी तो था लेकिन उन्हें डायबिटीज और हार्ट डिसीज नहीं थी। शोध के बाद सामने आया कि जिन वर्क स्ट्रेस और अच्छी नींद ना वाले लोगों में दोनों बीमारियों का खतरा 3 गुना अधिक था। सिर्फ काम का तनाव लेने वाले लोगों में इन बीमारियों का खतरा 1.6 गुना था, जबकि सिर्फ खराब नींद लेने वाले लोगों में इसका जोखिम 1.8 गुना अधिक था।

PunjabKesari


ब्लड प्रेशर का भरपूर नींद लेना है हल

अध्ययन के मुताबिक, काम का बोझ, बोझ से तनाव और ठीक से नींद ना लेने के कारण हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों में इसका खतरा बढ़ जाता है लेकिन अच्छी नींद लेकर इस रिस्क को कम किया जाता है। नींद से ऊर्जा के स्तर को बनाए रखने और तनाव को दूर करने में मदद करती हैं। वहीं अगर आप काम के तनाव के चलते नींद लेने तो इसके परिणाम घातक हो सकते हैं।

PunjabKesari

महिलाओं को 30% अधिक होता है Work Stress

पुरूषों के मुताबले महिलाओं को काम का तनाव 30% ज्यादा होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि औरतें भावनात्मक तौर पर कमजोर और अस्थिर होती हैं। वहीं हाउसवाइफ, घर व ऑफिस के बीच संतुलन बनाने के चक्कर में वर्क स्ट्रेस औरप डिप्रैशन की चपेट में आ जाती हैं।

टेंशन दूर करने का मंत्र 


टाइम मैनेजमेंट

काम का प्रेशर कम करने के लिए अपना टाइम मैनेज करें। इसके अलावा काम और ऑफिस के कामों के बीच में से अपने लिए भी समय निकालें।

PunjabKesari

ज्यादा न सोचे

जरूरत से ज्यादा सोचने रहने से दिमाग काम करना बंद कर देता है। जब भी आपको किसी बात की टेंशन हो तो गहरी सांस लें और कुछ देर के लिए आंखें बंद करें। इसके अलावा अपनी परेशानी दोस्त या परिवार वालों के साथ शेयर करें।

बातचीत करना है बेहद जरूरी

काम के तनाव को दूर करने के लिए दूसरों लोगों से कम्युनिकेशन बहुत जरूरी है। सारा दिन काम भी तनाव का कारण बनता है। ऐसे में काम से ब्रेक लेकर कर्मचारी, दोस्त और परिवार मैंबर्स से बात करें।

PunjabKesari

मेडिटेशन भी है मददगार

स्ट्रेस को दूर करने के लिए आप सुबह उठकर मेडिटेशन, योग और व्यायम करें। इससे ना सिर्फ तनाव दूर होगा बल्कि आप बीमारियों से भी बचे रहेंगे।

डाइट प्लान फॉर हाई बीपी 

अगर आप भी काम के चक्कर में डाइट पर ध्यान नहीं देते तो इससे दिल के साथ आप अन्य बीमारियों की चपेट में भी आ सकते हैं। ऐसे में अपनी डाइट में हेल्दी चीजें शामिल करें और ब्रेकफास्ट से लेकर तक को टाइम पर लें।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad