23 OCTWEDNESDAY2019 11:33:40 AM
Nari

इन 6 असरदार टिप्स से सुराहीदार गर्दन को बनाएं रिंकल-फ्री

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 19 Aug, 2018 04:26 PM
इन 6 असरदार टिप्स से सुराहीदार गर्दन को बनाएं रिंकल-फ्री

महिलाएं अक्सर अपने शरीर की कम लेकिन चेहरे की सुंदरता पर अधिक ध्यान देती हैं। चेहरे को जवां व सुंदर दिखाने के लिए ब्यूटी-सैलून में तरह-तरह के ट्रीटमेंट करवाती हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि दूसरों का ध्यान सबसे पहले चेहरे पर ही जाता है। जब त्वचा की देखभाल की बात आती है तो सिर्फ चेहरा ही नहीं, उससे नीचे गर्दन की त्वचा पर भी ध्यान देना जरूरी है। यहां की त्वचा सबसे पतली होने के कारण सबसे अधिक झुर्रियों इसी पर पड़ती है। त्वचा पर कहीं पर भी झुर्रियां होना उम्रदराज होने की निशानी है।

 

झुर्रियां पड़ने के कारण

PunjabKesari
हमारी त्वचा की भीतरी परतों में कोलेजन और इलास्टिन पाया जाता है जो त्वचा को आकर्षक बनाए रखता है। इनते अभाव के कारण त्वचा में ढीलापन आ जाता है। इससे सबके अतिरिक्त सूर्य की किरणें, धूम्रपान, तीखे मसालों के सेवन, तवान व प्रदूषण आदि से भी गर्दन में झुर्रियां पड़ जाती है। 

 

गर्दन की झुर्रिया गायब करने के तरीके 


1. अपने चेहरे को जो भी ब्यूटी ट्रीटमेंट दें, वहीं अपनी गर्दन पर भी अप्लाई करें। एंटी-एजिंग क्रीम या सीरम यदि आप चेहरे पर लगाती हैं तो गर्दन पर भी लगाएं। आपके चेहरे के साथ गर्दन पर भी इसका असर साफ देखने को मिलता है। 

 

2. हर रोज गर्दन पर ऑयल फ्री मॉयश्चराइज जरूर लगाएं, इससे त्वचा को भी नमी मिलेगी और यह नर्म रहेगी। 

 

3. धूप से गर्दन की त्वचा को बचा कर रखें। धूप में निकलने से पहले कम से कम 30 या 35 एस.पी.एफ. क्रीम यानी सनस्क्रीन क्रीम लगाएं। 

 

4. हर रोज गर्दन व चेहरे का व्यायाम करें ताकि आपके मसल्स टाइट हो। 

 

5. कम से कम आठ घंटे की नींद प्रतिदिन लेना बहुत जरूरी है। धूम्रपान, तली चीजों व अनहैल्दी फूड्स से दूरी बनाकर रखें। 

 

6. विटामिन ए, सी और ई युक्त खाद्य पदार्थ अपने भोजन में शामिल करें। हरी सब्जियों व फलों में प्रचुर मात्रा में मिनरल व एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं। दिन में 8-10 गिलास पानी अवश्य पीएं। ड्राइफ्रूट्स, ग्रीन टी, पालक के सेवन से भी झुर्रियां जल्दी नहीं आती। 

 

7. यदि इन सबके बाद भी आपको फर्क नहीं पड़ता तो त्वचा विशेषज्ञ से मिलें। उनकी सलाह से आप कैमिकल्स पीलिंग, फोटो फेशियल, लेजर, मीजोथैरेपी आदि जैसी सर्जरी रहित कास्टमैटिक विधियों द्वारा गर्दन की झुर्रियों का इलाज करवा सकती हैं।


 

Related News