18 SEPWEDNESDAY2019 1:13:00 PM
Nari

रोज सुबह खाली पेट 5mL पीएं ये आयुर्वेदिक जूस, तेजी से होगा वेट लूज

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 22 Aug, 2019 03:40 PM
रोज सुबह खाली पेट 5mL पीएं ये आयुर्वेदिक जूस, तेजी से होगा वेट लूज

वजन कम करने के लिए लोग वर्कआउट से लेकर डाइटिंग का सहारा लेते हैं लेकिन इसका असर बहुत धीरे-धीरे होता है। कुछ लोग तो वेट लूज के लिए स्लिम प्रोडक्ट्स या दवाइयों का सेवन भी करते हैं। मगर हैवी वर्कआउट व स्टिक डाइट से जहां शरीर में कमजोरी आती है वहीं दवाइयों व स्लिम प्रोडक्ट्स के भी कई साइड-इफैक्ट्स देखने को मिलते हैं। ऐसे में आप आयुर्वेदिक औषधि की मदद से तेजी से वजन घटा सकते हैं वो भी बिना किसी साइड-इफैक्ट के।

 

हम बात कर रहे हैं आयुर्वेदिक औषधि गिलोय की, जिसकी इस्तेमाल सदियों से होता आ रहा है। गिलोय की जड़ें, पत्तियां और टहनी, सभी वजन घटाने के लिए बेहद फायदेमंद है। चलिए आपको बताते हैं वजन घटाने का आसान आयुर्वेदिक तरीका और गिलोय के सेवन का सही तरीका।

PunjabKesari

तेजी से वजन घटाता है गिलोय

रोजाना 5mL गिलोय का रस पीने से फैट बर्निंग प्रोसेस तेज होता है। साथ ही इससे इम्यून सिस्टम और मेटाबॉलिज्म भी तेज होता है, जिससे वजन घटाने में काफी मदद मिलती है। साथ ही इससे आप कई गंभीर बीमारियों से भी बचे रहते हैं।

पेट के लिए भी है फायदेमंद

यह जूस पीने से पाचन क्रिया भी बेहतर होती है। साथ ही इससे शरीर में मौजूद विषैले टॉक्सिंस यूरिन के रास्ते बाहर निकाल जाते हैं, जिससे एक्स्ट्रा फैट बर्न करने में मदद मिलती है।

PunjabKesari

ऐसे करें सेवन

पहला नुस्खा: भले ही इसका सेवन फायदेमंद हो लेकिन फायदा तभी मिलता है जब सही तरीके से इसका सेवन किया जाए। इसके लिए 1 गिलास गुनगुने पानी में 5 मि.ली. गिलोय का रस और 1 चम्मच शहद मिलाकर पीएं। सुबह खाली पेट इसका सेवन करें और इसे पीने के कम से कम 30-35 मिनट बाद ही ब्रेकफास्ट करें।

दूसरा नुस्खा: वैसे इसका ज्यादा सुबह ही मिलता है लेकिन आप चाहें तो इसे दोपहर के खाने के 2 घंटे बाद भी इसका सेवन कर सकते हैं। इसके लिए 1 गिलास छाछ में 1 चम्मच गिलोय का रस, 1 चुटकी काली मिर्च पाउडर और थोड़ा-सा काला नमक मिलाकर पीएं। इससे वजन भी घटेगा और इसका टेस्ट भी आपको पसंद आएगा।

PunjabKesari

कब्ज और बवासीर में भी है फायदेमंद

इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटीबैक्टीरियल गुण कब्ज, बवासीर, स्वाइन फ्लू और वायरल इंफेक्शन जैसी समस्याओं को भी दूर करने में मदद करते हैं।

बरतें ये सावधानी

वैसे तो यह जूस पीना पूरी तरह फायदेमंद है लेकिन कुछ हेल्थ कंडीशन में इसका सेवन नहीं करना चाहिए जैसे...
-छोटे बच्चों को यह जूस नहीं पिलाना चाहिए।
-अगर आप गर्भवती हैं तो इसका सेवन ना करें।
-अगर आप वेट लूज के लिए इसका सेवन कर रहे हैं तो खान-पान पर कंट्रोल रखें। साथ ही रात का खाना हमेशा सोने से 2 घंटे पहले ही खा लें और फिर रात में कुछ भी न खाएं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News