Twitter
You are hereNari

आंखों की लालगी और भारीपन का तुरंत इलाज करते हैं ये 5 नुस्खे

आंखों की लालगी और भारीपन का तुरंत इलाज करते हैं ये 5 नुस्खे
Views:- Sunday, April 22, 2018-12:18 PM

धूल-मिट्टी के कारण आंखों में बैक्टीरियल इंफैक्शन होने से आंखे हल्की लाल या पिंक कलर की होने लगती है। जिसे मेडिकल भाषा में 'कंजक्टिवाइटिस' कहते हैं और आम लोग इसे पिंक आई बोलते हैं। कंजेक्टिव आंख का हिस्सा है जो इसे नम रखने में मदद करती है। इसमें इंफैक्शन होने पर आंखें पिंक होने लगती है। यह समस्या पहले एक आंख में होती हैं लेकिन इस पर ध्यान न देने के कारण यह प्रॉब्लम दूसरी आंख मे हो जाती है। इस समस्या को बढ़ने से रोकने के लिए आज हम आपको घरेलू उपाय बताएंगे, जिसे इस्तेमाल करके आप इसे घर पर ही ठीक कर सकते हैं।

'कंजक्टिवाइटिस' के लक्षण
आंखों का रंग पिंक या हल्का लाल होना।
आंखों से पानी निकलना और जलन रहना।
खारिश और सूजन आना। 
आंखों के साइडो पर पपड़ी बनना।

'कंजक्टिवाइटिस' के घरेलू उपचार

1. बर्फ
बर्फ के टुकड़े से आंखे साफ करने से इसमें इंफैक्शन दूर होती है। इससे आंखो को बहुत आराम मिलता है और पिंक आई से राहत मिलती है।

2. धनिया 
आंखो की सूजन, लालिमा और दर्द से राहत पाने के लिए धनिया काफी कारगार उपाय है। इसे इस्तेमाल करने के लिए ताजे धनिए को पानी में उबाल लें और इसे छान कर ठंडा होने दें। अब इसे पानी से आंखों को धोएं।

3. दूध-शहद
आंखों से इंफैक्शन हटाने के लिए गर्म दूध और शहद बराबर मात्रा में लें और इस से आंखों को साफ करें। साथ ही इसे आई ड्राप की तरह आंखों में डालें।

4. तेल से करें सिकाई
इंफैक्शन को रोकने के लिए सिंकाई काफी बढ़िया उपाय है। इसके लिए गुलाब, लेवेण्‍डर और कैमोमाइल किसी भी एक तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे गर्म करके कपड़े पर डालें और इसे ठंडा होने तक आंखों पर रखें। इसे प्रक्रिया को दिन में 3-4 बार करें।

5.सेब का सिरका
आंखो को धोने के लिए 1 कप सेब का सिरका और 1 कप पानी मिलाएं। फिर इस मिश्रण से आंखो को रूई के साथ साफ करें। लेकिन ध्यान रखें उस सेब के सिरके का इस्तेमाल करें, जिस पर मदर लिखा हो क्योंकि यह बैक्टीरिया से होने वाली इंफैक्शन को खत्म करने में मदद करता है।
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP