23 SEPMONDAY2019 7:23:33 PM
Nari

डायबिटीज मरीज के लिए फायदेमंद है घास पर चलना, मिलते हैं और भी फायदे

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 28 Aug, 2019 09:24 AM
डायबिटीज मरीज के लिए फायदेमंद है घास पर चलना, मिलते हैं और भी फायदे

आजकल के समय में बिजी शेड्यूल या गलत खान-पान के कारण लोग किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त हैं। डॉक्टर्स बीमारियों से बचने के लिए सुबह सैर या घास पर चलने की सलाह देते हैं यानि प्रकृति के जरिए आप बहुत-सी बीमारियों को दूर कर सकते हैं। जिंदगी को तनावमुक्त, सेहतमंद और खुशनुमा बनाने के लिए सुबह सैर करना, ताजी हवा लेना और घास पर नंगे पैर चलना बहुत फायदेमंद होता है। आज हम आपको बताएंगे कि घास पर नंगे पांव चलने से आपको क्या-क्या फायदे मिलते हैं।

 

कितनी देर घास पर चलना है जरूरी?

अगर आप चाहते हैं कि घास पर चलने से आपको पूरा फायदा मिले तो नंगे पांव कम से कम 25-30 मिनट सैर करें। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि आप सुबह-सुबह की घास पर चलें।

PunjabKesari

चलिए अब हम आपको बताते हैं नंगे पांव घास पर चलने के जबरदस्त फायदे...

डायबिटीज

डायबिटीज रोगियों को अक्सर पैरों और घुटनों में दर्द रहता है। ऐसे में घास पर चलना आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। रोजाना घास पर चलने से पैरों के तलवों में रक्त प्रवाह सही तरीके से होता है ब्लड और इससे शुगर कंट्रोल में रहता है।

दिल की बीमारी

नियमित रूप से घास पर नंगे पांव चलने से शरीर में खून का दौरा तेज होता है, जोकि आपको दिल की बीमारियों से दूर रखने में मदद करता है। इसके अलावा इससे खून पतला होता है, जो दिल की कोशिकाओं तक आसानी से पहुंच जाता है।

PunjabKesari

मजबूत हड्डियां

सिर्फ बढ़ती उम्र ही नहीं, आजकल की खराब डाइट के कारण लोगों की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। ऐसे में घास पर चलना आपके लिए फायदेमंद होगा। नंगे पांव घास पर चलने से हड्डियों में कैल्शियम बढ़ता है, जिससे उन्हें मजबूती मिलती है।

पैरों से जुड़ी समस्याएं

अगर आपको पैरों में सूजन, छाले या जलन जैसी कोई भी समस्या है तो घास पर 10-15 मिनट जरूर चलें। ऐसे में सिर्फ आपको आराम मिलेगा बल्कि लगे पांव चलने से आपकी सभी प्रॉब्लम भी दूर हो जाएगी।

टेंशन से दे राहत

घर और ऑफिस के चक्कर में आजकल लोग बहुत अधिक तनाव ले लेते हैं, जिससे डिप्रैशन का खतरा हो सकता है। ऐसे में आप सिर्फ 10 मिनट ताजी हवा में सांस ले और घास पर नंगे पांव चले। आपका तनाव भी दूर हो जाएगा और आप पूरा दिन एनर्जी से भी भरपूर रहेंगे। क्योंकि यह एक तरह से ग्रीन थेरीपी की तरह काम करती है।

PunjabKesari

एलर्जी व वायरल बीमारी का उपचार

आपको जानकर हैरान होगी लेकिन घास पर नंगे पांव चलने से एलर्जी और वायरल इंफेक्शन से भी राहत मिलती है। सुबह के समय घास पर नंगे पैर सैर की जाए तो पैरों में मौजूद तंत्र में हरी घास की उर्जा प्रभावित होती है। यह ऊर्जा सीधे मस्तिषक तक पहुंचती है, जिससे वायरल इंफेक्शन और एलर्जी से राहत मिलती है। आप चाहें तो थोड़ी देर घास पर बैठ भी सकते हैं।

ब्लड प्रैशर

आजकल बहुत से लोगों में ब्लड प्रैशर की समस्या आम देखने को मिलती है। ब्लड प्रैशर को कंट्रोल में रखने के लिए लोग कई तरह की दवाइयों का सेवन करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं घास पर चलने से आपकी यह समस्या भी दूर होती है। सिर्फ 15-20 मिनट घास पर नंगे पैर चलने से ब्लड प्रैशर कंट्रोल में रहता है।

आंखों की रोशनी होगी तेज

हरी घास पर चलने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है। जिन लोगों को चश्मा लगा या कम दिखाई देता है उन्हें रोजाना 10 मिनट घास पर चलना चाहिए। इससे धीरे-धीरे आंखे तेज होने लगेगी और आपका चश्मा भी उतर जाएगा।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News