22 AUGTHURSDAY2019 10:07:33 AM
Nari

Health Alert! शुगर चेक करते लड़की से हुई ये गलती, लापरवाही से गई जान

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 08 Feb, 2019 04:06 PM
Health Alert! शुगर चेक करते लड़की से हुई ये गलती, लापरवाही से गई जान

लोग छोटी- छोटी बातों को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन अगर हम आपको कहें कि किसी की छोटी सी गलती की वजह से जान भी जा सकती हैं तो आप क्या कहेंगे। जी हां, बात हैं इंग्लैंड में रहने वाली टीनेज लड़की की, जिसका नाम रोजी था। रोजी की मौत डॉक्टर को दिखाने के कुछ घंटो बाद हो गई। रोजी डायबिटीज की मरीज थी और शुगर लेवल बढ़ने के कारण बच्ची की जान चली गई। ब्लड मॉनीटर मशीन के खराब होने की वजह से और डॉक्टर की लापरवाही की वजह से बच्ची की हालत अचानक खराब हो गई जिसकी वजह से उसे जिंदगी से हाथ धोना पड़ा।

 

डॉक्टर से हो गई गलती

रोजी जब स्कूल से घर आई, तो उसे कमर में बहुत दर्द हो रहा था। ब्लड ग्लूकोज रीडिंग से जांच की गई तो शुगर लेवल (8.3 mmol/L) निकला जो ठीक था। जब रोजी को डॉक्टर के पास ले जाया गया तो रोजी के पेरेंट्स ने डॉक्टर को ब्लड ग्लूकोज रीडिंग की बात कही। ये सुनकर डॉक्टर को लगा कि शायद कान में इंफेक्शन की वजह से यह परेशानी हो रही है, इसलिए डॉक्टर ने दवाई देकर उसे रोजी को घर भेज दिया, हालांकि रोजी हाइपरवेंटिलेंटिंग (तेजी से सांस चलना) से जूझ रही थी।

 

सच जानकर शॉक हो गई फैमिली

जब रात के वक्त रोजी को दवा देकर सब सोने चले गए तो रोजी की तबीयत बिगड़ गई। एंबुलेंस को बुलाया गया। मेडिकल टीम ने बच्ची का शुगर लेवल चेक किया। फैमिली मेंबर्स यह देख कर शॉक हो गए कि रोजी का ब्लड ग्लूकोज लेवल 'हाई' था, जो कि 30 mmol/L था।

 

मशीन की खराबी थी असली वजह

जब मेडिकल टीम ने दूसरी मशीन से बच्ची का शुगर लेवल चेक किया, उसमें भी वो हाई ही निकला। इससे फैमिली मैंबर्स को पता चल गया कि उनकी मशीन गलत जानकारी दे रही हैं और इसी वजह से रोजी की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई।

PunjabKesari, Diabetes image

एक्सपर्ट्स के मुताबिक बचाई जा सकती थी जान

रोजी की तबीयत बिगड़ जाने पर जब उसे हॉस्पिटल ले जाया गया तो डॉक्टर्स ने रोजी की जान बचाने की बहुत कोशिशें की लेकिन वह रोजी को बचा नहीं पाए। एक्सरपर्टस का मानना है कि अगर पहले ही डॉक्टर को दिखाकर सीधे हॉस्पिटल ले जाया जाता तो बचने के चांस काफी ज्यादा थे। रोजी के पेरेंट्स खुद को दोष दे रहे थे कि काश वे पहले ही रोजी को इमर्जेंसी सेंटर ले जाते तो शायद बच्ची बच सकती थी।

Related News

From The Web

ad