20 MARWEDNESDAY2019 8:38:59 PM
Nari

याददाश्त कमजोर करती है एडल्ट फिल्मों की लत, 4 और बड़े नुकसान

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 11 Mar, 2019 06:01 PM
याददाश्त कमजोर करती है एडल्ट फिल्मों की लत, 4 और बड़े नुकसान

इंटरनेट का यूज आजकल इतना बढ़ गया है कि लोग छोटे से छोटा काम करने के लिए भी इसका ही सहारा लेते हैं। इंटरनेट क्रेज बड़ों से लेकर बच्चों तक में खूब दिखाई देता है, जिसके चलते लोग कई बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो सिर्फ अपनी बोरियत दूर करने के लिए गलत फिल्में देखने लगते है और धीरे-धीरे उन्हें इसकी लत लग जाती है। मगर ऐसी फिल्में देखना सेहत के लिए खतरनाक होता है। चलिए जानते हैं किस तरह सेहत को नुकसान पहुंचाती है ये फिल्में।

 

70% युवाओं को है यह लत

कुछ लोग तो अपनी बोरियत को दूर करने के लिए चैटिंग के साथ-साथ एडल्ट फिल्में भी देखते है। रिसर्च के अनुसार आज के इस दौर में लगभग 70% लोग ऐसी वीडियोज देखते हैं, जिसमें सबसे ज्यादा संख्या युवाओं की हैं।

 

ये होते हैं नुकसान
याददाश्त कमजोर होना

ऐसी फिल्में देखने से दिमाग का विकास रुक जाता है, जिससे कम उम्र में ही याददाश्त कमजोर और अल्जाइमर की समस्या हो सकती हैं। रिसर्च में भी यह बात साबित हो चुकी है कि जो लोग बहुत ज्यादा एडल्ट वीडियो देखते है उनका दिमाग धीरे धीरे सिकुड़ने लगता है, जिससे आप छोटी-छोटी बातें भी भूलने लगते हैं।

PunjabKesari

तनाव का कारण

अधिकतर लोग तनाव को दूर करने के लिए इस तरह की वीडियो देखते है लेकिन क्या आप जानते है इससे आपका तनाव कम होने की बजाए ओर भी बढ़ जाता है। ऐसी वीडियो देखने से आपको धीरे-धीरे इसकी लत लग जाती है और आप हर वक्त इसी के बारे में सोचते रहते हैं, जोकि आपके तनाव को बढ़ावा देता है।

 

अनिद्रा की समस्या

रिसर्च के अनुसार, ऐसे वीडियो देखने से आपके अंदर बेचैनी महसूस होती है, जिसके कारण आप सो नहीं पाते हैं और धीरे-धीरे यह अनिद्रा की समस्या में बदल जाती है।

PunjabKesari

स्वभाव में चिड़चिड़ापन

अधिक एडल्ट वीडियो देखने वाले लोग हमेशा तनाव में रहते हैं। ऐसे में उस व्यक्ति को जल्दी गुस्सा आने लगता है और आपका स्वभाव भी चिड़चिड़ा हो जाता है। ऐसे व्यक्ति ज्यादातर अकेला रहना पसंद करते है और परिवार से साथ भी समय नहीं बिताते।

 

मोबाइल हैक होने का डर

साइबर लॉ के मुताबिक एडल्ट वीडियो का कंटेंट उनकी सहमति के बिना भेजा जाता है, जोकि अपराध की श्रेणी में आता है। ऐसे में इस तरह की वीडियो देखने से स्मार्टफोन से आपकी प्राइवेसी हैक होने का खतरा हमेशा बना रहता है। इसके अलावा इस तरह की वीडियो देखने से आप साइबर क्रिमनल्स की चपेट में भी आ सकते हैं।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad