23 OCTWEDNESDAY2019 5:17:13 AM
Nari

गांधी जयंती: इस एक फल के शौकीन गांधी जी, इन चीजों से रखते थे परहेज

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 01 Oct, 2019 04:32 PM
गांधी जयंती: इस एक फल के शौकीन गांधी जी, इन चीजों से रखते थे परहेज

2 अक्टूबर को देश भर में अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई जाएगी। गांधी जी ने  शुरु से ही उच्च विचारों के साथ एक सादा जीवन व्यतीत किया है। उन्होंने अपना पूरा ही जीवन शाकाहारी खाने के साथ बिताया था, लेकिन समय - समय पर वह अपने खाने की आदतों के साथ विभिन्न तरह के प्रयोग करते रहते थे। दुनिया में ऐसा शायद ही कोई शख्स होगा जिसने इतने प्रयोग किए होंगे। चलिए आपको बताते है गांधी जी खाने के मामले क्या- क्या प्रयोग करते थे। 

 

खाने के लिए लेखक हेनरी स्टीफंस से प्रेरित 

गांधी जी का जन्म चाहे एक शाकाहारी परिवार में हुआ था लेकिन लेखक हेनरी स्टीफंस सॉल्ट का उनके शाकाहारी भोजन पर काफी प्रभाव था। उन्होंने अपनी मर्जी से ही सारी उम्र शाकाहार भोजन खाने का निर्णय लिया था। उनका मानना था जिस तरह से जिंदा रहने के लिए हवा व पानी चाहिए उसी तरह शरीर को पौष्टिक तत्व चाहिए होते है। इसलिए वह अपने खाने- पीने का खास ध्यान रखते थे।

PunjabKesari,gandhi jayanti photos, gandhi jayanti images, गांधी जयंती,  महात्मा गांधी फोटो, महात्मा गांधी इमेज

चीनी से करते थे परहेज 

गांधी जी अपने जीवन में चीनी से बहुत ही परहेज करते थे लेकिन उन्हें फल खाना बहुत ही पसंद था। फलों में उन्हें आम खाना बहुत ही पसंद था। इतना ही नही कहा जाता है कि वह खुद को कभी भी आम खाने से रोक नही पाते थे। 1941 में गांधी जी ने लिखा भी था- कि आम एक शापित फल है। यह फल सभी का अपनी ओर अधिक ध्यान खिंचता है। 

 

चाय व कॉफी का किया त्याग

उनके जीवन में एक समय ऐसा भी आया था जब उन्होंने चाय व कॉफी का त्याग कर दिया था। इतना ही नही बापू को गुड़ खाना काफी पसंद था लेकिन उन्होंने अपने जीवन में गुड़ खाना भी छोड़ दिया था। एक बार एक महिला अपने बच्चे को लेकर बापू के पास आई ताकि बापू उसे गुड़ खाने से मना करें। तब बापू ने उस बच्चे को कहने से पहले खुद गुड़ खाना छोड़ा फिर बच्चे को उसे बात को मानने के लिए कहा। 

PunjabKesari,gandhi jayanti photos, gandhi jayanti images, गांधी जयंती,  महात्मा गांधी फोटो, महात्मा गांधी इमेज

रखते थे उपवास 

देश को आजादी मिलने से पहले गांधी जी ने अपनी जीवन में 17 बार उपवास रखा था। उनका सबसे लंबा उपवास 21 दिन का था। इतना ही नही उन्होंने आजादी मिलने के बाद भी उपवास रखा था। उनका मानना था कि उपवास रखने से शरीर की चर्बी कम होती है व शरीर स्वस्थ रहता है। 

शराब व तंबाकू से दूरी 

महात्मा गांधी जी ने पूरी उम्र शराब व तंबाकू से दूरी बनाई रखी। इतना ही नही उन्होंने बाकियों को भी इससे दूरी बनाए रखने के लिए कहा था।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News