18 AUGSUNDAY2019 2:55:53 AM
Nari

Health: आप भी टीवी देखते-देखते खाते हैं Snacks तो हो जाएं अलर्ट

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 09 May, 2019 05:15 PM
Health: आप भी टीवी देखते-देखते खाते हैं Snacks तो हो जाएं अलर्ट

शाम को दिन भर के कामकाज से फुर्सत मिलते ही हाथ में टीवी का रिमोट और स्नैक्स मिल जाए तो बस दिनभर की थकान पल भर में दूर हो जाती है। पर असल में यह आदत लगातार दौहराने से सेहत को नुकसान पहुंच रहा है। जी हां, हाल ही में हुए एक शोध के मुताबिक, टीवी देखते हुए खाने की आदत गंभीर बीमारियों को न्यौता दे रही है।

 

बीमारियों को न्यौता दे रहा है टीवी देखते हुए खाना

असल में जब आप टीवी देखते हैं तो आपका ध्यान खाने से पूरी तरह हट जाता है। ऐसे में आपको यह पता नहीं चल पाता है कि आप कितना खा चुके हैं या कभी-कभी यह भी ध्यान नहीं रहता की आप क्या खा रहे हैं। वास्तव में ऐसे में आपका शरीर, मस्तिष्क को इस बारे में भूख से जुड़े हुए सिग्नल भी नहीं भेज पाता है। जिससे आपको यह एहसास ही नहीं हो पाता कि आपका खाना कब खत्म हुआ और कब नहीं और ऐसे में आप ज़रूरत से ज्यादा खा लेते है।

PunjabKesari

आइए जानते है टीवी देखते समय स्नैकस खाने से क्या-क्या हो सकते है सेहत के नुकसान.. 

मेटाबोलिक सिंड्रोम का खतरा

बढ़े तो बढ़े , बच्चे भी घंटो टीवी के सामने बैठकर जंक फूड खाने में लगे रहते हैं लेकिन इससे शरीर में मेटाबोलिक सिंड्रोम का खतरा देखने को मिल रहा है। यूं तो मेटाबोलिक सिंड्रोम कोई एक बीमारी नहीं है बल्कि यह जोखिम कारकों का एक समूह है। उच्‍च रक्‍तचाप, उच्‍च रक्‍त शर्करा, हाई कोलेस्‍ट्रॉल और मोटापा, आदि मिलकर मेटाबॉलिक सिंड्रोम बनते हैं। ऐसे में सवाधान रहना बेहद जरूरी है।

PunjabKesari

हाई ब्लड प्रैशर के मरीजों को अधिक खतरा

सबसे ज्यादा मेटाबॉलिक सिंड्रोम होने का खतरा हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को रहता है। इसके अलावा अगर आपके खून में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा 150 मिग्रा/डेलि है तो आपको मेटाबॉलिक सिंड्रोम होने का खतरा ज्यादा है। सामान्य व्यक्ति का रक्तचाप 120/80 माना जाता है। अगर यह इस सामान्य स्तर से अधिक हो तो आपको मेटाबॉलिक सिंड्रोम हो सकता है।

शुगर और कोलेस्ट्रॉल

अधिकतर स्नैक्स में नमक, तेल और नमक सब कुछ ही अधिक मात्रा में होता है। इनका लगातार सेवन करने से हाई बल्ड प्रैशर, शुगर और कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता है। यही कारण है कि आज डायबिटीज जैसी बीमारी छोटी उम्र के बच्चों में भी देखने को मिल रही है। इतना ही नहीं, इसके कारण अनिद्रा, तनाव, बैचेनी, नाइटमेयर जैसी परेशानियां भी हो सकती हैं।

PunjabKesari

गर्भवती महिलाओं के लिए खतरा

गर्भवती महिलाओं के लिए तो ज्यादा टीवी देखते हुए स्नैक्स खाना तो और भी खतरनाक है। इससे ना सिर्फ जंक फूड नुकसान पहुंचाता है बल्कि टीवी की हानिकारक किरणों भी गर्भ पर गलत प्रभाव पड़ता है, जिससे मां और शिशु दोनों को नुकसान हो सकता है।

कैसे करें बचाव?

टीवी देखते समय स्नैक्स खाने के कारण बीमारियों का खतरा इसलिए ज्यादा रहता है क्योंकि इस दौरान खाते वक्त युवा अपनी क्षमता व जरूरत से ज्यादा सेवन कर लेते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि कैसे आप अपनी आदत में बदलाव करके खुद को बीमारियों से सुरक्षित रख सकते हैं।

1. इस आदत को बदलने के लिए आप घर में खाना खाने की एक ही जगह तय करें लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि वहां टीवी ना हो।

2. टीवी देखने का ऐसा समय निर्धारित करें, जिसमें आपको खाने की इच्छा ना हो।

3. अगर आपके घर में टीवी ड्राइंग रूम में लगा है तो उसे कमरे में शिफ्ट कर लें। इससे आपका ध्यान टीवी की तरफ जाएगा ही नहीं।

4. टीवी देखते हुए खाने की मन हो तो जंक फूड की बजाए नट्स, फल या अन्य हेल्दी चीजों का सेवन करें।

5. कोशिश करें कि ऑफिस से आने के बाद टीवी के सामने बैठने की बजाए परिवार के साथ बैठें। साथ ही बच्चे जब स्कूल से आए तो उन्हें थोड़ी देर रेस्ट करवाने के बाद आउटडोर गेम्स खेलने के लिए कहें।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad