23 JULTUESDAY2019 8:00:44 PM
Nari

Pregnancy Diet: प्रैग्नेंसी में कॉफी पीना सही है या गलत?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 04 Jul, 2019 02:21 PM
Pregnancy Diet: प्रैग्नेंसी में कॉफी पीना सही है या गलत?

गर्भवास्था के दौरान कॉफी का सेवन खतरनाक हो सकता है। सैंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवैंशन के एक हालिया शोध के अनुसार, कॉफी में मौजूद कैफीन रक्तचाप को बढ़ाता है और इससे भ्रूण को भी नुकसान पहुंच सकता है। चलिए आपको बताते हैं कि प्रैग्नेंसी में कॉपी पीने से क्या नुकसान हो सकते हैं और आपको कितनी मात्रा में कॉफी का सेवन करना चाहिए।

 

सीमित मात्रा में करें सेवन

विशेषज्ञों के अनुसार, अगर किसी गर्भवती महिला को कॉफी पीने की लत है और वह उसे छोड़ नहीं सकती तो सीमित मात्रा में इसका सेवन करना चाहिए। कम मात्रा में कॉफी का सेवन करना सुरक्षित होता है। प्रतिदिन 8 आऊंस से ज्यादा कॉफी का सेवन ना करें। यह 200 मिलीग्राम कैफीन से कम है। डॉक्टरों का मानना है कि 200 मिलीग्राम से कम कॉफी का सेवन करने से गर्भपात, समय से पहले प्रसव और कम वजन वाले प्रसव जैसी समस्याएं नहीं होती।

PunjabKesari

कॉफी पीने के नुकसान
समय से पहले जन्म की आशंका

शोधकर्ताओं के अनुसार, कैफीन से रक्तचाप और हार्ट बीट में बढ़ौतरी होती है। जो महिला गर्भवती नहीं है उसे कॉफी के सेवन से कोई नुकसान नहीं होगा। वह कॉफी के पीने से बाद अलर्ट महसूस करेगी लेकिन गर्भवती महिला द्वारा कॉफी का सेवन करने से पैदा होने वाले बच्चे का वजन कम हो सकता है या समय से पहले प्रसव का भी खतरा हो सकता है।

शिशु का कम वजन 

रोजाना 200 मिलीग्राम से अधिक कॉफी पीने से बच्चे के वजन कम होने की परेशानी भी हो सकती है। इसका मतलब है कि जन्म के समय बच्चे का वजन अगर कम था तो वह जब बड़ा होगा तो उसको बहुत सारी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

PunjabKesari

भ्रूण को नुकसान

कॉफी में मौजूद कैफीन गर्भनाल की बाधा को पार करके भ्रूण तक पहुंच जाता है। गर्भनाल वह अंग है जो भ्रूण को ऑक्सीजन और पोषण देता है। जब कैफीन गर्भनाल को पार कर भ्रूण तक पहुंचता है तब भ्रूण इस पदार्थ को पचा नहीं पाता, जिससे उसे नुकसान पहुंचता है।

भ्रूण के विकास में रूकावट

शोध के अनुसार, गर्भावस्था के दौरान ज्यादा कॉफी का सेवन करने से प्रसव की जटिलताएं बढ़ जाती हैं। साथ ही ज्यादा कॉफी के सेवन से भ्रूण के विकास में भी परेशानियां आ सकती हैं। भ्रूण पर कॉफी के कई हानिकारक प्रभाव हो सकते हैं क्योंकि कैफीन प्लासेंटल मेम्ब्रेन के जरिए बच्चे के ब्लड में जा सकता है। इसलिए आपको गर्भवस्था के समय कॉफी से दूर रहना चाहिए।

हो सकता है गर्भपात 

आप हल्की चाय पी सकती हैं गर्भावस्था के दौरान आप कॉफी के बदले चाय पी सकती हैं क्योंकि यह कॉफी से ज्यादा सुरक्षित है। हल्की चाय में दूध डाल कर पी सकते हैं और हां ब्लैक टी और साथ ही ग्रीन टी भी ना पीएं इससे गर्भपात हो सकता है।

डिहाइड्रेशन की समस्या

कॉफी से पेशाब अधिक आता है और इससे आप डिहाइड्रेट हो सकती हैं। प्रैग्नेंसी के दौरान वैसे ही पेशाब बहुत आता है। ऐसे में कॉफी के सेवन से शरीर में पानी अत्यधिक मात्रा में निकल जाता है।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad