18 AUGSUNDAY2019 2:04:26 AM
Nari

Health Update: जूस पीकर कंट्रोल में रखें हाई बीपी, 4 नियम उम्र भर रखेंगे बचाव

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 17 May, 2019 07:13 PM
Health Update: जूस पीकर कंट्रोल में रखें हाई बीपी, 4 नियम उम्र भर रखेंगे बचाव

खराब और स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल के चलते आज 5 में से 3 लोग हाइपरटेंशन के शिकार है। हाइपरटेंशन यानि हाई ब्लड प्रैशर की समस्या जो कभी बुढ़ापे में सुनने को मिलती थी लेकन आज बच्चे और यंगस्टर्स इसका शिकार है। बेकाबू ब्लड प्रैशर, आगे हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक जैसी बीमारियों को बढ़ाता है। यह एक साइलेंट किलर बीमारी है क्योंकि इसके बारे में लोगों को पूरी जानकारी ही नही है। सर्वे के अनुसार, लगभग 33% भारतीय इस बीमारी के संकेतों से अनजान है, नतीजा यह बीमारी कंट्रोल से बाहर हो जाती है।

 

चलिए पहले जानते हैं आखिर हारपरटेंशन है क्या?

हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप की वो स्थिति जब धमनियों में खून का प्रवाह व दबाव काफी हद तक बढ़ जाता है। शरीर में खून का दौरा तेज हो जाता है। सामान्य रक्तचाप की रेंज 120/80 MMHG होती है लेकिन जब यह स्तर बढ़ता हैं तो इसका असर ब्रेन, किडनी, दिल और आंखों पर पड़ना शुरु हो जाता है।

PunjabKesari

हाइपरटेंशन की वजह स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल

अफ्रीकन हाइपरटेंशन सोसाइटी के अनुसार, 10 में से 4 लोग हाई बीपी के शिकार हैं जबकि महज50 प्रतिशत लोग ही इस बीमारी से अवेयर हैं। बीपी के हाई होने के शारीरिक और मानसिक दोनों ही कारण हो सकते हैं। जैसे कि स्ट्रैस में रहना, नींद ना आना, ब्लड कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना,स्मोकिंग और नशे की लत, एक्सरसाइज न करना, मोटापा,जंक फूड्स खाना, विटामिन डी की कमी,जरूरत से ज्यादा काम करना इसके मुख्य कारण है। 

PunjabKesari

हाइपरटेंशन दूर रखने के 4 जरुरी टिप्स

हैल्दी डाइट जरूरी

पहला हैल्दी डाइट लें। नमक का सेवन कम करें दिन में सिर्फ 1 टीस्पून ही लें। भरपूर फल-सब्जियां खाएं और सैचुरेटिड फैट खानी बंद करें। डाइट में लहसुन, केला, एवोकाडो, हरी पत्तेदार सब्जियां, चकुंदर, बेरीज, फैटी फिश, बादाम, पिस्ता, सूरजमूखी और पंपकिन सीड्स, अनार डाइट में जरूर शामिल करें क्योंकि यह आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल में रखते हैं और साथ ही में खून के प्रवाह को भी। 

फिजिकल एक्टिविटी

दूसरा फिजिकल एक्टिविटी जरूर रखें। दिन में कम से कम 30 मिनट व्यायाम को जरूर दें। वजन का बढ़ना भी इस बीमारी का एक कारण है। 

PunjabKesari

नशे से दूरी 

तीसरा तंबाकू-एल्कोहल का सेवन ना करें। यह दोनों ही चीजें हार्ट तक ऑक्सीजन पहुंचाने में दिक्कत पैदा करती हैं और ब्लड प्रैशर बढ़ाती हैं।

स्ट्रैस लेने से बचें

चौथा जितना हो सके तनाव से दूर रहें। इसे आप एक्सरसाइज, मैडिटेशन और योग से दूर रख सकते हैं।

बीपी कंट्रोल करने के कुछ घरेलू उपाय 

- सुबह खाली पेट रोज लौकी रस पीने से हाई ब्लड प्रैशर की समस्या नहीं होती। इसके अलाव इससे दिल और डायबिटीज की बीमारियां भी दूर रहती है।

- प्याज के रस में 1 चम्मच शुद्ध देसी घी मिलाकर खाने से इस बीमारी में आराम मिलता है।

- ब्लड प्रैशर बढ़ने पर आधा गिलास गर्म पानी में काली मिर्च पाउडर मिलाएं और 2-2 घंटे बाद इसका सेवन करें। 

- रोजाना तांबे के बर्तन में रखा पानी पीएं। इससे उच्च रक्तचाप से राहत मिलेगी।

PunjabKesari

याद रखें ये बातें 

6 महीने में एक बार बीपी जरूर चेक करवाएं। अगर हाई बीपी की समस्या है तो नियमित चेकअप करवाना ना भूलें। याद रखें कि हाई बीपी में हार्ट, किडनी व शरीर के अन्य अंग काम करना बंद कर सकते हैं। इससे आंखों पर भी असर पड़ता है इसलिए बीमारी को गंभीरता से लें। अच्छी डाइट, स्ट्रैस फ्री लाइफ और रैगुलर एक्सरसाइज आपको इस बीमारी से बचा सकता है।

Related News

From The Web

ad