23 AUGFRIDAY2019 3:10:55 PM
Nari

लिपस्टिक, क्रीम या मेकअप प्रॉडक्ट से क्या प्रेग्नेंसी में फर्क पड़ता है?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 05 Mar, 2019 06:10 PM
लिपस्टिक, क्रीम या मेकअप प्रॉडक्ट से क्या प्रेग्नेंसी में फर्क पड़ता है?

प्रेग्नेंसी में महिलाओं को हेल्थ के लिए बहुत सतर्क होने की जरूरत होती है क्योंकि किसी भी छोटी सी गलती से गर्भ में पल रहे बच्चे पर सीधा असर पड़ता है लेकिन क्या आप जानती है कि खाने-पीने के अलावा आप जो क्रीम या लिपस्टिक इस्तेमाल करती है उसका असर भी बच्चे पर पड़ता है। एक रिसर्च में पता चला है कि प्रेग्नेंसी के दौरान मॉइस्चराइज़र और लिपस्टिक का इस्तेमाल करने से बच्चे की ग्रोथ रुक सकती है। दरअसल, इन प्रोडक्ट्स में प्लास्टिक केमिकल होते है, खासतौर पर पैथालेट। ये खतरनाक केमिकल अगर लिपस्टिक या क्रीम के जरिए शरीर में जाता है तो इससे बच्चे की हेल्थ पर बुरा असर पड़ता है। आइए जानते हैं कि ये बात किस हद तक सही है-

 

स्टडी में पता चली बात

इसी स्टडी के मुताबिक पैथालेट की वजह से बच्चों में अस्थमा की दिक्कत भी हो जाती है।रिसर्च ने 209 बच्चों के पेशाब के सैंपल्स इकट्ठा किए। इन बच्चों की उम्र तीन, पांच, और सात साल थी। पता चला जिन बच्चों के पेशाब में पैथालेट मौजूद था, उनको रोज़मर्रा के कामों को निपटाने में दिक्कत होती थी। उनको एंग्जायटी और डिप्रेशन भी होने के आसार थे।

 

प्रेग्नेंसी में केमिकल्स से परहेज जरूरी

डॉक्टरों के मुताबिक प्रेग्नेंसी के शुरुआती 3 महीनों में बच्चे को केमिकल्स से बचाकर रखना चाहिए। कोई भी ऐसी चीज इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए जिसमें केमिकल हो। पैथालेट भी उनमें से एक है। 

PunjabKesari

 

डॉक्टरों का कहना है कुछ अलग

इस मुद्दे पर बहुत से सवाल उठे। इस वक्त सबसे पहला सवाल यह था कि क्या वाकई औरतों को प्रेग्नेंसी के दौरान इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?क्या ये स्टडी सही है। जवाब चौंकाने वाला था और वो था 'नहीं' ।इस बात में कोई सच्चाई नहीं है।

 

पैथालेट का इस्तेमाल ना के बराबर

आज के समय में लिपस्टिक और मॉइस्चराइज़र में पैथालेट इस्तेमाल ही नहीं होता। कई ज़माने पहले ये इन प्रोडक्ट्स में डाला जाता था। ज़्यादातर मेकअप कंपनी अब हर्बल या ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करती हैं। साथ ही हमने कई कंपनियों की लिपस्टिक में इस्तेमाल की जा रही चीज़ों को खोजकर निकाला। वो थीं फैट, ऑलिव ऑयल, पेट्रोलियम, बीज़वैक्स। ये वो चीज़ें हैं जो अगर मुंह में चली जाएं तो नुकसानदेह नहीं होतीं। लिपस्टिक को यही बात ध्यान में रखकर ही अब बनाया जाता है। ताकि अगर ये मुंह के अन्दर जाए तो आपकी सेहत पर असर न पड़े।

PunjabKesari

 

अच्छा प्रॉडक्ट ही करें इस्तेमाल

अगली बार आप कोई लिपस्टिक या मॉइस्चराइज़र ख़रीदने जाएं, तो इसमें इस्तेमाल की गई चीज़ों की लिस्ट को ज़रूर पढ़ लें। बिना टेंशन के आप अपने पसंदीदा प्रोडक्ट्स इस्तेमाल कर सकती हैं। ये ध्यान दें कि उसमें कोई खतरनाक केमिकल न हों।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad