26 MARTUESDAY2019 11:46:11 PM
Nari

हरी सब्जियां हो या सीफूड, भरपूर पोषण चाहिए तो जानें पकाने का सही तरीका

  • Edited By Priya verma,
  • Updated: 05 Dec, 2018 04:00 PM
हरी सब्जियां हो या सीफूड, भरपूर पोषण चाहिए तो जानें पकाने का सही तरीका

हर किसी के खाने पकाने का तरीका अलग-अलग होता है। सब्जी के पौष्टिक गुणों को बरकरार रखने के लिए उसे बनाने की सही विधि का पता होना बहुत जरूरी है। ज्यादा विटामिन्स या मिनरल्स का फायदा एक साथ पाने के लिए हम एक साथ कई सब्जियों को मिलाकर पका लेते हैं लेकिन हो सकता है कि इनका गलत कंबीनेशन फायदे कि जगह आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा रहा हो। जैसे सी-फूड्स के साथ दही, दूध के साथ फल, शहद के साथ मक्खन आदि ऐसी बहुत चीजें हैं जिनका एक साथ सेवन करना सेहत के लिए हानिकारक है। इसके अलावा इन्हें पकाने का सही तरीका पता होना भी बहुत जरूरी है। 

सही तरीके से पका कर खाएं ये आहार 

वेज हो या वेजीटेरियन फू़ड्स इन्हें पकाने के लिए कुछ खास बातों के ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है ताकि खाने में मौजूद विटामिन्स और खनिज को सही पोषण शरीर को मिलता रहे। 

कम नमक मिलाएं

नॉनवेज बनाते समय इस बात का ख्याल रखें कि इसका फ्लेवर मसालों से ही आता है इसलिए इसमें ज्यादा नमक न मिलाएं। इसकी बजाए सब्जी में नींबू और हर्ब्स डालने से पौष्टिकता बरकरार रहती है। 

PunjabKesari

सही तरीके से पकाए नॉनवेज

इसे पकाते समय कम तेल का इस्तेमाल करें, इसे फ्राई करने की बजाय ग्रिलिंग, रोस्टिंग, बेकिंग और उबालना बेस्ट रहता है। नॉन वेज फ्राई करने से पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं। 

PunjabKesari, non veg

दालें और स्प्राउट्स

दालें और अंकुरित अनाज सेहत के लिए बहुत लाभकारी माने जाते हैं लेकिन इन्हें सिर्फ भिगोकर खाना सही नहीं है। इससे बदहजमी हो सकती है, भिगोने के बाद इसे पका कर खाएं। जब अनाज अंकुरित हो जाता है तो इसे स्टीम द्वारा पका कर खाना फायदेमंद है। 

PunjabKesari, sprouts

सब्जियां

शिमला मिर्च, पालक, बीन्स, अंडे, कलेजी आदि में फाइबर,विटामिन बी और सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जब ये सब्जियां ज्यादा देर तक पकाई जाती हैं तो इनके पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं। इनकी पौष्टिकता बरकरार रखने के लिए हल्की स्टिम देकर ही इन्हें पकाना अच्छा रहता है। 

सी-फूड और मीट

आयरन और प्रोटीन से भरपूर ये नॉन-वेजीेटेरियन फूड्स सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं लेकिन इन्हें कच्चा खाने से फूड प्वाइजनिंग भी हो सकती है। इसे अच्छी तरह पका कर ही खाना चाहिए। इन चीजों को माइक्रोवेव,तंदूर या कम आंच पर पका कर खाएं। इससे खाने का स्वाद भी बढ़ेगा और प्रोटीन की मात्रा भी बरकरार रहेगी। 

एक साथ न खाएं ये चीजें

कुछ चीजों की तासीर गर्म तो कुछ की ठंड़ी होती है। ऐसे में इनका एक साथ सेवन करने से नुकसान हो सकता है। 

दही के साथ क्‍या न खाएं?

दही में खटास होती है और आयुर्वेद के अनुसार इसकी तासीर गर्म होती है। दही को फलों से साथ न खाएं, इनके अलग-अलग एंजाइम पचाने में मुश्किल पैदा करते हैं। मछली के साथ भी दही नहीं खाना चाहिए। इसके अलावा पूरी या बाकी तली हुई चीजों के साथ इसका सेवन करने से भी पाचन क्रिया में गड़बड़ी पैदा हो सकती है। खजूर और दही के पौष्टिक तत्व भी अलग-अलग होते हैं। इनका एक साथ सेवन नहीं करना चाहिए। 

दूध के साथ न खाएं ये आहार 

दूध के साथ नमकीन नहीं खानी चाहिए। इससे दूध के प्रोटीन नष्ट हो जाते हैं। इसके अलावा दूध के साथ फल मिलाकर खाने से दूध में मौजूद कैल्‍श्यिम फलों के एंजाइम को सोख लेता है, इससे शरीर को पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता। हरी पत्तेदार सब्जियां, अंडा, मीट, चिकन खाने के एकदम बाद भी दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। 

PunjabKesari,milk

शहद के साथ ये आहार खाने से करें परहेज

शहद को गर्म करके नहीं खाना चाहिए इसे उसके कुदरती एंटी ऑक्सीडेंट गुण खत्म हो जाते हैं। इसके अलावा शहद के साथ मक्खन, शहद के साथ घी खाने से भी सेहत को नुकसान होता है। 

संतरा और केला न खाएं एक साथ

फ्रूट सलाद खा रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि संतरा और केला एक साथ न खाए। खट्टे फल और मीठे फल से निकलने वाली शुगर अलग-अलग तरह की होती है। इससे पोष्टिकता नष्ट होने के साथ-साथ पाचन क्रिया में भी गड़बड़ी पैदा हो जाती है। 

PunjabKesari, orange and banana

Related News

From The Web

ad