19 OCTSATURDAY2019 7:30:41 AM
Nari

DIY: कैमिकल्स युक्त नहीं, आयुर्वेदिक काजल से बढ़ाएं आंखों की खूबसूरती

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 21 May, 2019 04:45 PM
DIY: कैमिकल्स युक्त नहीं, आयुर्वेदिक काजल से बढ़ाएं आंखों की खूबसूरती

आयुर्वेदिक काजल जिसे आमतौर पर कोहल(Kohl) कहा जाता है जिसका इस्तेमाल अधिकतर लोग करते हैं। काजल लगाने से न सिर्फ आंखों में चमक आती है बल्कि इससे आंखों को ठंडक मिलती हैं और उनकी गंदगी या अशुद्धियां दूर रहती हैं। पुराने समय में लोग घर का बना काजल इस्तेमाल करते थे मगर मॉडर्न समय में लड़कियां फैशन ट्रैंड को ध्यान में रखकर कैमिकल्स युक्त काजल इस्तेमाल करती हैं जो उनकी आंखों को खूबसूरत लुक तो देता है लेकिन आंखों की हैल्थ के लिए ठीक नहीं है। 

 

अगर आप भी काजल लगाने की शौकीन है तो कैमिकल्स के बजाएं नैचुरल काजल इस्तेमाल करें जो आपकी आंखों को खूबसूरत दिखाने के साथ उनको फ्रेश व क्लीन भी रखें। चलिए आज हम आपको घर पर ही 2 तरीके से होममेड काजल बनाना सिखाते हैं जो आपकी आंखों को कई तरह की प्रॉबल्म से बचाएं रखेंगे। 


1. कैस्टर ऑयल से बनाएं काजल 
काजल बनाने की सामग्री

1 कॉपर प्लेट
1 सिल्वर बॉक्स
प्योर कैस्टर ऑयल 
कॉटन से बने कॉटन थ्रैड (मिट्टी के दीपक जलाने के लिए)
देसी घी (शुद्ध मक्खन)
चम्मच 
ब्रॉन्ज दीपम (Bronze deepam)
कपूर

PunjabKesari
बनाने का तरीका 

- पहले तो 2 स्टील के गिलास और ब्रॉन्ज दीपम व कॉपर प्लेट लें।

- इसके बाद ब्रॉन्ज दीमक में 1/4th क्षमता तक कैस्टर ऑयल भरें। फिर तेल में 1 या 2 कॉटन थ्रैड डालकर दीपक जला दें। 

- अब 2 टंबलर या स्टील गिलास का इस्तेमाल कर दीमक के ऊपर तांबे की प्लेट रखें। ध्यान रखें कि दीपक पूरी तरह से तांबे की प्लेट से ढका होना चाहिए, ताकि काली स्याही जमा करने के लिए तांबे को पर्याप्त सेक मिले। 

- यदि आप चाहे तो बीच-बीच में तांबे की प्लेट को आग से ऊठा कर देख सकते है। तब तक प्रतीक्षा करें जब तक कि पूरा तेल खत्म न हो जाए। दीमक व तांबे की प्लेट में जमा काली राख यानी कोहल तैयार है। अब इसे सिल्वर के बॉक्स में स्पेचुल(spatula) की मदद से इकट्ठा कर लें। 

- अब इसमें देसी थोड़ा-सा देसी घी मिलाएं और अच्छी तरह से राख में मिक्स कर लें। अब इसमें कपूर की छोटी सी मात्रा मिलाएं और अच्छे से मिक्स करके किसी ठंडी जगह पर स्टोर करें। 

PunjabKesari
2. बादाम से बनाएं नैचुरल काजल
काजल बनाने की सामग्री 

1 पतली मैटेलिक प्लेट
1 लाइटर 
1 लांग सूई 
बादाम और बादाम तेल 
1 प्लकर

PunjabKesari

बनाने का तरीका

- 180 डिग्री लाइन में दो स्टैंड रखें जिनके बीच 15 सेमी की दूरी हो। फिर धीरे से इन दोनों स्टैंड के टॉप पर पतली प्लेट रखें क्योंकि जलते हुए बादाम को पकड़ने के लिए अंदर पर्याप्त जगह होनी चाहिए।

- धीरे से एक बादाम में सुई डालें और एक गैर कंडक्टर के साथ सुई के किनारे को पकड़ें क्योंकि इससे आपकी उंगलियां सुरक्षित रहेंगी। सावधान रहें, आपको बादाम को अधिक जोर लगाकर नहीं तोड़ना है। 

- अब एक लाइटर या एक मोमबत्ती के इस्तेमाल से बादाम को जलाते हुए प्लेट के नीचे ले जाए, ताकि धुआं प्लेट के आधार को छू सके। जलने के बाद बादाम को फैंक दें। फिर बाकी बादाम को इसी प्रक्रिया में जलाकर उनका धुआं प्लेट में इकट्ठा कर लें। जब प्लेट ज्यादा काली या उसपर ज्यादा सारी कालिख इकट्ठा न हो जाएं। 

- बाद में चाकू या किसी अन्य स्क्रैपर की मदद से किसी छोटे से जार में कालिख को स्क्रैप यानी इकट्ठा कर लें। अब इसमें बादाम के तेल की कउच बूंदे मिलाएं और चम्मच की मदद से अच्छे से मिक्स करें। जब तक इसका पेस्ट मोटा और मलाईदार न हो जाए, इसमें बादाम तेल की बूंदे डालते रहें। अगर आप 6 बादाम के साथ कालिख जमाकर कर रहे है तो इसमें 2 बूंदे तेल की डालें। 

- आपका होममेड काजल तैयार है। इसे किसी साफ व सूखी जगह पर स्टोर करें। ध्यान रहें कि हाथों को अच्छी तरह धोकर और सूखाकर इसका इस्तेमाल करें। 

- घर का बना काजल आमतौर पर अच्छा होता है, भले ही इसमें कोई कैमिकल्स प्रॉडक्ट इस्तेमाल न किया गया हो लेकिन हर 4 महीने में कम से कम एक बार फ्रेश काजल तैयार करें। 

- रात को सोने से पहले काजल का इस्तेमाल करें। इससे आपकी आंखें साफ व फ्रेश नजर आएगी। 


 

Related News