18 JULTHURSDAY2019 12:34:34 PM
Nari

चलिए करते हैं दुनिया में सबसे कम जनसंख्या वाले देश की सैर

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 11 Jul, 2019 02:57 PM
चलिए करते हैं दुनिया में सबसे कम जनसंख्या वाले देश की सैर

लगातार बढ़ती हुई जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए आज विश्वभर में World Population Day मनाया जा रहा है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य लोगों को बढ़ती जनसंख्या और उससे जुड़े मुद्दों के प्रति जागरुक करवाना है। सबसे अधिक जनसंख्या में के मामले में भारत और चीन तो सबसे पहले नंबर पर आता ही है लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में कुछ ऐसे भी देश हैं जिनकी जनसंख्या नामात्र है। यदि आप भीड़भाड़ से दूर जगहों पर घूमने का शौंक रखते हैं तो आज हम आपके लिए कुछ ऐसे देशों की सूची लेकर आएं हैं....

वेटिकन

वेटिकन सिटी इटली देश के 'रोम शहर' के अंदर बसा एक स्वतंत्र देश है। सिर्फ 44 हेक्टेयर के क्षेत्रफल में बसे इस देश की जनसंख्या केवल 1 लाख के करीब है। इसके बावजूद इस देश को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त है। इसके अपने सिक्के, अपना डाक विभाग और अपना रेडियो सब कुछ है। धर्म गुरु पोप का नाम तो आपने सुना ही होग, उनकी वजह से भी यह देश काफी फेमस है। यहां के गिरजाघर, मकबरे, संग्रहालय इत्यादि मुख्य आकर्षण का केंद्र हैं। 

PunjabKesari

मोनैको

मोनैको को दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश माना जाता है। इसकी जनसंख्या 38 से 39 हजार के बीच है। आपको जानकर हैरानी होगी कि यहां की आबादी के 30 प्रतिशत लोग करोड़पति हैं। यह देश केवल 2 स्केवेयर मीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। यह देश भारत के किसी गांव से भी छोटा माना जाता है। यह देश टूरिजम के लिए काफी फेमस है। यहां के कैसीनो दुनिया भर में फेमस हैं। हैरान करने वाली बात यह है कि यहां के कैसीनों में इन देश के निवासी पैसा नहीं लगा सकते। इन कैसीनों में केवल बाहर के लोग आकर ही जुआ खेल सकते हैं। 

मार्शल आईलैंड

मार्शल आईलैंड दुनिया का 7वां सबसे छोटा देश है। इसकी जनसंख्या मात्र 53,066 है। आपको यहां जाकर धरती से ज्यादा पानी दिखेगा। इसी वजह से यह देश प्रदूषण से कोसों दूर है। शांतिपूर्वक माहौल का आनंद उठाने के लिए लोग यहां दूर-दूर से चले आते हैं। शाम के वक्त समुद्र के किनारे बैठकर सूर्य अस्त को देखने का नजारा आप जिंदगी भर नहीं भूल पाएंगे। यहां के लोग मार्शल आर्ट में निपुण होते हैं। यहां तक कि औरतें और बच्चे सब लोग मार्शल आर्ट करना पसंद करते हैं। 

लिक्टनस्टीन

लिक्टनस्टीन विश्व का छठा सबसे छोटा देश है। यह यूरोप में है और स्विट्जरलैंड और ऑस्ट्रिया के बीच बसा हुआ है। इसका क्षेत्रफल है 160.4 वर्ग किलोमीटर। यहां की जनसंख्या है 36,925 के करीब है। इस देश की खास बात है कि यहां कोई एयरपोर्ट नहीं बना हुआ। यहां जाने के लिए आपको इसके आस-पड़ोस के देश में लैंड करना पड़ेगा जहां से आप ट्रेन या फिर नौका के जरिए लिक्टनस्टीन पहुंच सकते है। एंडवेंचर पसंद लोगों के लिए यह जगह बहुत बढ़िया रहेगी। 

PunjabKesari

नौरु

नौरु विश्व का तीसरा सबसे छोटा देश है, इस देश की अपनी कोई सेना नहीं है। इसका क्षेत्रफल 21.3 वर्ग किलोमीटर में फैला है। इस देश की कुल जनसंख्या 10 हजार है। यहां के लोग बेहद भोले-भाले होते हैं। इस देश में आपको किसी भी तरह के खतरे या डर की संभावना नहीं होगी। प्रकृतिक नजारों को पेश करता हुआ यह देश अपने अंदर अनेकों रहस्य समाए बैठा है। यहां जाकर लोगों से आपको इस देश की कम जनसंख्या होने के अजीबों-गरीब कारणों के बारे में पता चलेगा। 

मालदीव

हनीमून डेस्टिनेशन के लिए मशहूर मालदीव भी छोटे देशों में गिना जाता है। यह 298 वर्ग में फैला है और इसकी जनसंख्या 4 लाख 17 हजार है। हिन्द महासागर में स्थित सुंदर टापुओ के देश मालदीव  Luxury Resorts , सफेद रेत वाले खुबसुरत समुद्र तट तथा साफ़ झिलमिलाता पानी के लिए जाना जाता है। लगभग 2 वर्ग किमी में फैले माले में करीब 1 लाख लोग रहते है। मालदीव भी धरती पर सबसे घनी आबादी वाले स्थानों में से एक माना जाता है। 

भले ही इन देशों के नाम सुनने में थोड़े अटपटे और अनजान लगते हैं, पर यकीन मानिए अपने परिवार या दोस्तों संग यहां जाकर आप जीवन के अलग से अनुभवों का आभास करेंगे। इन देशों की यादें जीवन भर आपके मन में बसी रहेंगी। 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad