17 SEPTUESDAY2019 1:44:21 AM
Nari

अंधविश्वास के चक्कर में नमक में दबाए गए 2 युवक, पढ़िए पूरा मामला

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 21 Aug, 2019 03:36 PM
अंधविश्वास के चक्कर में नमक में दबाए गए 2 युवक, पढ़िए पूरा मामला

सोशल मीडिया पर आए दिन कई तरह के मैसेज देखने व सुनने को मिलते है। जिन्हें देखकर लोग उस पर विश्वास कर लेते हैं। इतना ही नही कई बार लोग सोशल मीडिया पर बहुत ही फर्जी मैसेज भेजते है जिस पर लोग आंख बंद करके विश्वास कर लेते है लेकिन इन बातों पर विश्वास करने से पहले सोच लेना चाहिए कि वह किस हद तक सच है। सोशल मीडिया पर चल रहे एक इसी तरह के मैसेज को देख कर मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में दो युवकों के शव को रात भर नमक में दबाकर रखा गया। 

पढ़िए क्या है पूरा मामला 

कुछ दिन पहले तालाब में डूब कर दो भाईयो की मौख हो गई थी लेकिन उसके बाद सरकारी स्वस्थ्य केंद्र में उनके दोबारा जीवित होने के भम्र में रात भर नमक में दबा कर रखा गया। वहां के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर दूर सांवेर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में यह घटना हुई हैं। 

PunjabKesari, Nari
जानकारी के मुताबिक तालाब में नहाते हुए दो सगे भाई कमलेश उम्र 20 साल, हरीश उम्र 18 साल डूब गए थे। उसके तालाब से निकाल कर उन्हें अस्पताल में ले जाया गया, यहां पर डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। तभी उनके परिजनों ने सोशल मीडिया पर चल रहे मैसेज का हवाला देते हुए दोनों शवों को दो क्विंटल खड़े नमक से रात भर ढक कर रखा। उसके बाद यह संदेश सबको पहुंचाया गया कि इससे शायद दोनों युवक दोबारा खड़े हो सकते हैं। उनका कहना था कि पानी में डूबे व्यक्ति को जब 4 घंटे के लिए नमक में रखा जाता है तो उनके शरीर से सारा पानी सूख जाता है जिससे वह दोबारा जीवित हो जाते हैं। 

PunjabKesari, Nari

पोस्टमॉर्टम के बाद किया अंतिम संस्कार

जब यह ममला चंद्राबतीगंज पुलिस थाने में पहुंचा तो वहां के अधिकारियों ने इस पर एक्शन लेकर उन दोनो बॉडी का पोस्टमॉर्टम करवाया। उसके बाद उनका अंतिम संस्कार किया गया। 


 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News