17 AUGSATURDAY2019 8:56:06 PM
Nari

Breastfeeding से जुड़े मिथक, जिन्हें ना चाहते हुए भी मानती है भारतीय महिलाएं

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 09 Aug, 2019 03:04 PM
Breastfeeding से जुड़े मिथक, जिन्हें ना चाहते हुए भी मानती है भारतीय महिलाएं

भारतीय महिलाओं को ब्रेस्टफीडिंग के वक्त काफी कुछ सुनना और लोगों की सुझाव पर चलना भी पड़ता है। ब्रेस्टपीडिंग के वक्त ये मत खाओं, ये मत करो या इस तरह बच्चे को दूध मत पलाओं, न जाने क्या-क्या। कई बार तो बड़े-बुजुर्ग ऐसी बातें सुना देते है कि जिनको सुनकर अक्सर मां असमजस में पड़ जाती है। हालांकि ये सब होते सिर्फ महज मिथक ही हैं, लेकिन फिर भी उन्हें आसानी से मान लिया जाता है। मगर क्या आपने कभी सोचा है कि वाकई इनसे कोई असर पड़ता है? चलिए आप खुद ही जान लीजिए इन मिथ की सच्चाई। 

 

मिथ: नहाने के बाद बच्चों को दूध मत पिलाओ

सच्चाई: औरतों का कहना है कि बेस्टफीडिंग के दौरान उन्हें कहा जाता है कि नहाने के बाद बच्चे को दूध बिल्कुल ना पिलाओ क्योंकि बाल गीले होते हैं जिससे बच्चे को ठंड लग सकती हैं, जबकि ये बस एक वहम है, ऐसा कुछ नहीं होता। 

मिथ: बच्चे के जन्म के 3 या 4 दिन के दौरान ज्यादा दूध नहीं होता 

सच्चाई: माना कि इन दिनों दूध कम होता है लेकिन बच्चे के हिसाब से वो दूध काफी होता है। अगर बच्चा ठीक ढंग से फीड ले तो उसके लिए उतना दूध काफी होता है क्योंकि शिशु के पेट की क्षमता पहले 48 घंटों में 5 से 15 मी/फीड होती है। 

PunjabKesari

मिथ: पब्लिकली ब्रेस्टफीडिंग ना करवाओ

सच्चाई: वैसे तो आजकल ऐसा कुछ मिथ नहीं लेकिन पहले समय का औरतों आज भी ऐसा ही मानती है कि पब्लिक प्लेस पर बच्चे को दूध नहीं पिलाना चाहिए क्योंकि इससे उसे नजर लग सकती है जबकि ऐसा कुछ नहीं है। 

मिथ: ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मां चिकन नहीं कहा सकती 

सच्चाई: ब्रेस्टफीडिंग के दौरान अक्सर मां को सलाह दी जाती है कि तुम चिकन, आलू, बैंगन, प्याज या फिर बाहर का कुछ नहीं खा सकती है क्योंकि इनके सेवन से ये मिल्क में मिक्स हो जाते हैं जो बच्चे की फीड में चले जाते है। जबकि ऐसा कुछ भी नहीं, हां मगर लिमिट में इनका सेवन करना बहुत जरूरी है। 

मिथ:बच्चे को फीड करवाते वक्त सिर ढ़कना चाहिए  

सच्चाई: कहा जाता है कि जब भी बच्चे को दूध पिलाओ तो सिर कर लो, जबकि इसमें बिल्कुल भी सच्चाई नहीं है। अधिकतर औरतें सिर्फ अपने बड़ों की बात का मान रखने के लिए ऐसा करती है। जबकि इसको कोई लोजिक नहीं है। 

मिथ: सिजेरियन के बाद पहले 2 दिन तक मां बच्चे को फीड नहीं करवा सकती है 

सच्चाई: ऐसी बहुत सी स्थिति होती हैं जिनमें मां अपने पोस्ट सिजेरियन बच्चे को फीड करवा सकती है। वो भी बिना उठे या इधर-उधर खिसके। सर्जरी के तुरंत बाद भी। 

PunjabKesari

मिथ:सिजेरियन के डिलीवरी के बाद नींबू या ऑयली फूड्स से परहेज

सच्चाई: अधिकतर औरतों को सलाह दी जाती है कि सी सेक्शन के बाद नींबू या ऑयली चीजें नहीं खानी चाहिए क्योंकि इससे बच्चे की सेहत पर असर पड़ता है। ऐसा कुछ नहीं है, आप लिमिट में इनका सेवन कर सकते हैं, नहीं तो अपने डॉक्टर की सलाह ले सकती है। 

Related News

From The Web

ad