22 OCTTUESDAY2019 1:53:41 AM
Nari

Exam Time: बच्‍चों का पढ़ाई में नहीं लग रहा मन तो फॉलो करें ये वास्‍तु टिप्‍स

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 18 Mar, 2019 11:49 AM
Exam Time: बच्‍चों का पढ़ाई में नहीं लग रहा मन तो फॉलो करें ये वास्‍तु टिप्‍स

बच्चों के लिए साल का सबसे मुश्किल समय यानी एग्जाम टाइम (Exam Time) शुरू हो चुका है। एग्जाम टाइम में बच्चों के दिमाग पर काफी स्ट्रेस रहता है। बच्चे टेंशन में खान-पीना तक भूल जाते हैं। वहीं कुछ बच्चे ऐसे भी होते हैं, जिनका मन पढ़ाई में नहीं लगता। ऐसे में आज हम आपको कुछ वास्तु टिप्स बताएंगे, जिन्हें फॉलो कर आप बच्चों के एग्जाम स्ट्रेस को दूर कर उन्हें टेंशन फ्री कर सकते हैं।

 

सही दिशा में हो स्टडी रूम

बच्चों का अध्ययन कक्ष उत्तर-पूर्व दिशा में होना चाहिए। यदि इस दिशा में पढ़ाई करना संभव न हो तो पूर्व, उत्तर या पश्चिम दिशा में मुंह करके पढ़ाई कर सकते हैं। इससे उनका मन पढ़ाई में ज्यादा लगता है।

PunjabKesari

पूर्व दिशा में होना चाहिए सिर

बच्चों का सोते समय सिर पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। ऐसे सोने से उनकी स्मरण-शक्ति बढ़ेगी और सेल्फ स्टडी में भी उनका मन लगेगा।

 

कमरे में हो पर्याप्त रोशनी

इस बात का ध्यान रखें कि बच्चे के स्‍टडी रूम में रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था हो और वहां अंधेरा ना रहे। इससे उनके कमरे में सकारात्मक ऊर्जा होगी।

 

कमरे का कलर भी हो सही

बच्चों के स्टडी रूम में हल्के रंग जैसे- हल्का पीला, गुलाबी, आसमानी, हल्का हरा आदि करवाएं। इससे उनका दिमाग शांत रहेगा और स्मरण शक्ति भी बढ़ेगी।

PunjabKesari

माता सरस्वती की तस्वीर

वास्तु के अनुसार, बच्चों के स्टडी रूम में माता सरस्वती की तस्वीर भी जरूर लगानी चाहिए। साथ ही स्टडी टेबल दीवार से सटा होना चाहिए और किताबों को साउथ ईस्ट दिशा में रखें।

 

बच्चों के कमरें में जरूर हो ये चीजें

वास्तु शास्त्र के अनुसार, बच्चों के स्टडी रूम में एक पेंडुलम वॉच, ग्लोब और प्रिज्म जरूर होना चाहिए। इससे उनकी स्मरण शक्ति बढ़ती है साथ ही उनका पढ़ाई में ध्यान भी लगता है।

PunjabKesari

इन बातों का भी रखें ध्यान

-पढ़ाई करते समय अपने आस-पास का वातावरण शुद्ध होना चाहिए। सुगंध वाला वातावरण होना चाहिए, कमरे में दुर्गंध नहीं होना चाहिए।
-सूर्योदय से पहले यानी सुबह 4.30 बजे से सुबह 10 बजे तक पढ़ाई करना बच्चों के लिए फायदेमंद रहता है। -रात को अधिक देर तक पढ़ना स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है।
-बच्चों पर अच्छे मार्क्स लाने के लिए दवाब ना डालें।
-अच्छी नींद लेने से दिमाग फ्रेश रहता है इसलिए बच्चों को भरपूर नींद लेने के लिए भी कहें।
-एग्जाम के समय ज्यादा से ज्यादा डार्क चॉकलेट, ब्लूबेरी, बादाम आदि चीजें खाएं। इसके अलावा उनके सही समय पर भोजन करने के लिए कहें।

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News