23 JULTUESDAY2019 4:48:35 AM
Nari

48 की उम्र में भी खुद को 20 का मानती हैं बॉडीबिल्डर लोला नेज, बना चुकी हैं कई रिकॉर्ड

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 09 Jul, 2019 04:59 PM
48 की उम्र में भी खुद को 20 का मानती हैं बॉडीबिल्डर लोला नेज, बना चुकी हैं कई रिकॉर्ड

महिलाएं आज हर क्षेत्र में बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं लेकिन बात जब पहलवानी की आती है तो औरतों को इस खेल के लायक नहीं समझा जाता। ऐसा इसलिए क्योंकि महिलाएं अपनी फिगर को लेकर काफी फिक्रमंद रहती हैं। मगर आज हम आपको बॉडीबिल्डिंग में नाम कमाने वाली अमेरिका की लोला नेज के बारे में बताने जा रहे हैं, जो खुद को 48 की उम्र में भी सेक्सी और खूबसूरत मानती हैं। हालांकि ऐसा नहीं है कि वो सुंदर नहीं है लेकिन उनका यह जज्बा बाकी महिलाओं के लिए प्ररेणा है, जो फिगर के चलते इस खेल में आगे नहीं आना चाहती।

 

48 की उम्र में भी मानती हैं खुद को खूबसूरत

लोला नेज दो बच्चों की मां है। वह 48 साल की हो चुकीं है लेकिन दिल से वो खुद को 28 साल की मानती हैं, जिसका कारण है उनकी फिटनेस। लोला हमेशा से ही फिट रहना चाहती थी लेकिन गेस्ट्रोएजोफेगिल रिफ्लक्स (जीईआरडी) नामक बीमारी के कारण उन्हें इसके लिए काफी संघर्ष करना पड़ा। यह एक डाइजेस्टिव डिसऑर्डर है, जो फूड पाइप और पेट की बीच मसल्स में होता है। उन्होंने इलाज करवाया लेकिन दवा ने भी अपना काम करना बंद कर दिया लेकिन उन्होंने अपने हौंसले से खुद को फिर से फिट कर लिया।

PunjabKesari

एक नहीं, 4 बीमारियों का शिकार हो चुकीं है लोला

लोला को इस बीमारी के साथ-साथ ब्लड प्रैशर, डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्राल की समस्या भी हो गई। जब हालत बिगड़ने लगी तो उन्होंने पर्सनल ट्रेनर की मदद ली। ट्रेनर की मदद से उन्होंने वेट ट्रेनिंग और कार्डियो एक्सरसाइज की और खुद को फिट किया।

PunjabKesari

रातभर होता था दर्द, रो-रोकर गुजारी रातें

उन्होंने बताया कि इस बीमारी के कारण उन्हें असहनीय दर्द होता था। कई बार तो में रातभर इस दर्द से परेशान रहती थी और मेरी आंख से आंसू निकल आती थी लेकिन अपने पोते-पोतियों का मुंह देखकर मुझे हिम्मत मिलती थी। उनके साथ ज्यादा वक्त बिताने की चाह ने मुझे नई हिम्मत दी।

4 साल में जीते 6 बॉडीबिल्डिंग कॉम्पिटिशन

बीमारी के चलते लेजा को फिट होने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी। हालांकि फिट होने के बाद उन्होंने ना सिर्फ बॉडी बिल्डिंग में हिस्सा लिया बल्कि कई मेडल भी अपने नाम किए। जी हां, ठीक होने के बाद उन्होंने कई कॉम्पिटिशन में हिस्सा लिया, जिसमें से 6 चैम्पियनशिप में वह अव्वल पर रहीं।

PunjabKesari

बीमारी के बाद भी नहीं खोया हौंसला

उनका कहना है कि अपनी बीमारी को हराने के बाद मुझ में और भी कॉन्फिडेंस आ गया है। 20-30 साल की उम्र में मुझे कई परेशानियों का सामना करना पड़ना, जिसके कारण कारण मैं काफी तनाव में भी रही। बावजूद इसके मैंने कभी भी अपनी आत्मविश्वास नहीं खोया, जिसकी बदौलत आज मैं इस मुकाम पर खड़ी हूं। उस वक्त मैंने अपनी गुड़ लुक्स की बजाए फिटनेस पर ध्यान जरूरी समझा।

फेसबुक पर हैं 80 हजार फॉलोअर्स

लोगों के लिए प्रेरणा बन चुकी लोला के फेसबुक पर 80 हजार फॉलोअर्स हैं। वह कहती हैं कि मुझे अच्छा लगता है जब लोग मुझसे प्ररेणा लेकर खुद को फिट रखते हैं। आज मुझे अपनी बॉडी को देखकर जो सुकून मिलता है उसे मैं लफजों बयां नहीं कर सकती। उन्होंने कहा, अब ना सिर्फ मेरी पर्सनैलिटी में बदलाव आया है बल्कि मेरे अंदर का सारा डर भी खत्म हो गया।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APPa

Related News

From The Web

ad