Twitter
You are hereNari

ऊनी कपड़ों की यूं करें देखभाल, हमेशा रहेगी उनकी चमक बरकरार

ऊनी कपड़ों की यूं करें देखभाल, हमेशा रहेगी उनकी चमक बरकरार
Views:- Saturday, December 29, 2018-11:31 AM

ऊनी कपड़ों पर जल्दी ही रोएं आ जाते हैं या फिर सही देखभाल के अभाव में वे सिकुड़ जाते हैं। ऐसे में कपड़े हमेशा नए नजर आए, इसके लिए उनकी सही देखभाल करनी बेहद जरूरी है। अगर आप भी अपने ऊनी कपड़ों को नया जैसा बनाए रखना चाहते है तो आज हम आपको उनकी केयर के कुछ खास टिप्स बताएंगे जिन्हें फॉलो जरूर करें।  

किसी भी बटन या जिप वाले स्वैटर या वूलन ड्रेस को धोने से पहले उसकी बटन एंव जिप को बंद कर दें। इससे वूलन की शेप ठीक रहेगी। 

 

ऊनी कपड़ों की चमक बरकरार रखने के लिए धोने के बाद उन्हें एक बाल्टी पानी में ग्लिसरीन की कुछ बूंदे डालकर 2 मिनट तक डुबो कर रखें। 

 

ऊनी कपड़ों को माइल्ड डिटर्जैंट से ही धोएं, धोने से पहले स्वैटर को उल्टा कर लें अर्थात सिलाई वाला हिस्सा ऊपर हो। 

 

पसीने की दुर्गंध को मिटाने के लिए 1 लीटर पानी में 1 टेबलस्पून बोरैक्स पाऊडर डालकर स्वैटर को 10-15 मिनट के लिए भिगो दें, इसके बाद स्वैटर को धोएं।

 

उधेड़ी हुई ऊन को फिर से नया, चमकीला और सीधा करने के लिए उसे पानी की भाप पर रखें, इसके लिए एक बर्तन में पानी गर्म करें, उसके ऊपर छलनी रखें तथा ऊन को छलनी में रखें। अब 2-2 मिनट पर ऊन को उलटती-पटलती रहें, थोड़ी देर बाद आप देखेंगी कि ऊन बिल्कुल सीधी, चमकदार और नई जैसी हो गई है। 

 

ऊनी कपड़ों को धोने के लिए अच्छे ब्रांड का लिक्विड सोप ही इस्तेमाल करें, प्लास्टिक की बाल्टी या फिर टब में पर्याप्त मात्रा में पानी लेकर उसमें लिक्विड सोप डालकर झागदार घोल बना लें। सभी स्वैटरों को उल्टा व एक-एक करके भिगोएं और देखें कि किसी स्वैटर का रंग तो नहीं निकल रहा, यदि ऐसा है तो उसे अलग से भिगोएं। 

 

गीले व नमी वाले गर्म कप़ड़ों पर प्रैस न करें, ऐसा करने से उनकी चमक फीकी पड़ सकती हैं, साथ ही इन्हें हैंगर पर न लटकाएं। 

 

ऊनी कपड़ों को सुखाते समय स्लीव्स का ध्यान जरूर रखें, नहीं तो वे लटकर ढीली हो जाएंगी। 

 

गर्म कपड़ों को कभी भी नमी वाले स्थान पर न रखें। स्वैटर के कंधों को साफ करते समय नीचे रूई का छोटा-सा तकिया या गद्दी रखनी चाहिए, यह स्वैटर के आकार को बिगड़ने से बचाता है। 

 

सभी स्वैटरों को धोते समय ब्रश का इस्तेमाल न करें, बल्कि हल्के हाथों से रगड़कर उन्हें साफ करें। 

 

अतिरिक्त पानी को निकालने के लिए स्वैटर को निचोड़ें नहीं, बल्कि स्वैटर को सूखे टॉवेल से कवर कर दें। इससे अतिरिक्त पानी टॉवेल में आ जाएगा। 

 

स्वैटर को सुखाने के लिए रस्सी पर न लटकाएं, उन्हें समतल जमीन पर उैला कर सुखाएं, इससे उनका आकार सही बना रहेगा।

 

रूटीन में पहने जाने वाले ऊनी कपड़े घर पर धोए जा सकते है, परंतु महंगे या खास कपड़ों को ड्राई क्लीन करवाना ही ठीक रहेगा। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by: