21 OCTMONDAY2019 5:56:45 PM
Nari

वजन घटाने में मददगार है राई, डायबिटीक लोगों के लिए भी फायदेमंद

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Mar, 2019 07:17 PM
वजन घटाने में मददगार है राई, डायबिटीक लोगों के लिए भी फायदेमंद

घरों में राई का इस्तेमाल अचार बनाने या फिर कुछ सब्ज‍ियों और सांभर में तड़का लगाने के लिए किया जाता है। राई एक अनाज है जिससमें प्रोटीन होता है। राई का इस्तेमाल आटा, बीयर और वोडका तैयार करने के लिए भी किया जाता है। जौ या गेहूं के आटे की तुलना में राई का आटा ज्यादा पौष्टिक माना जाता है। सिर्फ स्वाद ही नहीं वजन कम करने और डायबिटीक पैशेंट के लिए भी यह काफी बढ़िया मानी जाती है। 

 

वजन कम करने में मददगार 

राई का शरीर के वजन पर काफी हद तक प्रभाव पड़ता है, यह वजन बढ़ने से रोकता है और मोटापे के खतरे को कम करता है। राई इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करती है और कुल प्लाज्मा कोलेस्ट्रॉल को कम करती है। सुबह और दोपहर में राई की रोटी का सेवन करने से गेहूं की रोटी की तुलना में भूख का स्तर कम हो जाता है क्योंकि राई की रोटी में चोकर की मात्रा सबसे अधिक होती है। 

 

डायबिटीज करें कंट्रोल 

राई का एक और लाभ यह है कि यह ब्लड शुगर के स्तर को नियमित और बेहतर बनाने में मदद करता है। राई की रोटी ग्लूकोज स्तर को नियंत्रित करने और इंसुलिन गतिविधि में सुधार करने में असरदार है।  

PunjabKesari

 

कैंसर से बचाव 

साबुत अनाज राई में कैंसर से लड़ने वाले गुण होते हैं जिसमें घुलनशील और अघुलनशील फाइबर, फाइटिक एसिड, प्रतिरोधी स्टार्च, पॉलीफेनोल्स, सैपोनिन और प्रोटीज अवरोधक जैसे तत्‍व होते हैं। ये सभी कैंसर कोशिकाओं को फैलने से रोकने में मदद करते हैं। राई के आटे से बने राई उत्पाद ब्रैस्ट कैंसर के जोखिम को कम करने में मददगार होते हैं।

 

हार्ट प्रॉब्लम करें दूर

राई सहित साबुत अनाज आपके दिल के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे होते हैं क्योंकि इनमें उच्च मात्रा में फाइटोन्यूट्रिएंट्स और फाइबर होते हैं। अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग रोजाना राई से बने तीन खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं, उनमें हृदय रोग का खतरा 20 प्रतिशत से 30 प्रतिशत तक कम होता है। 

PunjabKesari

 

बुखार और दर्द में कारगर

कई बार बुखार आने के बाद जीभ पर सफेद परत जम जाती है। धीरे-धीरे भूख और प्यास भी कम होने लगती है। ऐसे में  सुबह के वक्त शहद में 4-5 राई का चुर्ण बना कर पीने से कफ वाला बुखार ठीक हो जाता है। अगर आपको भी जोड़ों के दर्द की शिकायत है तो राई का इस्तेमाल आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा। रोजाना राई के लेप से जोड़ों की मसाज करने से जोड़ों के दर्द में फायदा होता है। आप चाहें तो इसमें कपूर भी पीसकर मिला सकते हैं।

 

बाल और स्किन के लिए फायदेमंद

अगर डैंड्रफ की प्रॉब्लम ने आपको परेशान कर रखा है तो राई का इस्तेमाल करना आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा। आप चाहें तो राई को रातभर भिगोकर उसके पानी से सिर धो सकते हैं। इसे पीसकर भी आप इस्तेमाल कर सकती हैं। राई में मायरोसीन, सिनिग्रिन जैसे तत्व पाए जाते हैं। ये दोनों ही चीजें स्क‍िन के लिए बहुत फायदेमंद हैं। रोजाना राई के पानी से चेहरा धोने पर चेहरे की रंगत निखरती है और मॉइश्चर भी बना रहता है।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News