Twitter
You are hereNari

बीमारियों का घर बन सकता है आपका कंफर्टेबल बिस्तर, जानिए कैसे?

बीमारियों का घर बन सकता है आपका कंफर्टेबल बिस्तर, जानिए कैसे?
Views:- Tuesday, December 25, 2018-7:44 PM

सोते समय लोग अंजाने में बहुत सी गलतियां करते है जिसका असर सीधा उनकी सेहत पर पड़ता है। क्या आप जानते हैं कि आपका बिस्तर भी कई बीमारियों का कारण बन सकता है? जी हां, गलत बिस्तर के चुनाव से आपको स्किन एलर्जी, सोरायसिस, बाल झड़ने और अस्थमा जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आइए जानते हैं ऐसी 5 गलतियां जिनसे आप बच सकते हैं।
 

मुलायम गद्दे का इस्तेमाल

अधिक मुलायम बिस्तर इस्तेमाल करने से बचे। इससे आपकी पीठ व गर्दन में अकड़न आ सकती है। साथ ही में रीढ़ की हड्डी का टेढ़ापन, रीढ की हड्डी में दर्द, गर्दन में दर्द आदि होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

सिंथेटिक बेडशीट से बचें

अपने बिस्तर के चुनाव में सिंथेटिक बैडशीट -कंबल का इस्तेमाल ना करें। बेडशीट, तकिया कवर और कंबल के लिए कपास, वूल या रेशम का ही चुनाव करें। यह सिंथेटिक की तुलना ज्यादा स्वस्थ होता है। सिंथेटिक बिस्तर पर सोने से कई बार स्किन एलर्जी, रेशेज और खुजली का कारण बन सकता है। 

PunjabKesari

सर्दियों में धूप ना लगाना

ऊनी कंबल, तकिया तथा गद्दे में धूल अंदर तक जम जाती है , साथ ही सीलन जम जाती है ऐसे में इन्हें धूप ना लगाना बीमारियों की मुख्य वजह बन सकती है। इसके लिए वैक्‍यूम क्‍लीनर का प्रयोग भी कर सकते हैं। धूल भरे बिस्तर के कारण सांस संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। छोटे बच्चों के लिए बिस्तर की धूल कई बार जानलेवा भी हो सकती है।

रोजमर्रा के कपड़ों के साथ न धोएं बिस्तर

बिस्‍तर पर इस्‍तेमाल किए जाने वाले कम्‍बल और तकिये आदि को दूसरे कपड़ों के साथ न धोएं। इससे बिस्तर की धूल कपड़ों में चली जाएगी जिससे स्किन एलर्जी,सोरायसिस प्रॉब्लम होने का खतरा बना रहता है। 

PunjabKesari

 

ज्यादा ऊंचा तकिए से बचें

बहुत कठोर और ऊंचे तकिये का इस्तेमाल ना करें। सिर के नीचे पतला और मुलायम तकिया  इस्तेमाल करें। ज्यादा ऊंचे तकिये से गर्दन की समस्या हो सकती है और भयंकर दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

 

PunjabKesari


 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by:

Latest News