18 JULTHURSDAY2019 3:16:20 PM
Nari

पेरेंट्स हो जाएं Alert, इन बेबी प्रॉडक्ट्स से बच्चों को कैंसर का खतरा!

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 27 Apr, 2019 06:09 PM
पेरेंट्स हो जाएं Alert, इन बेबी प्रॉडक्ट्स से बच्चों को कैंसर का खतरा!

अगर आप भी जाॅनसन एंड जाॅनसन (J & J) के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं तो अब सावधान हो जाइए। दरअसल, जॉनसन ऐंड जॉनसन के बेबी शैंपू के नमूने क्वालिटी टेस्ट में फेल हो गए हैं। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने भी जॉनसन एंड जॉनसन बेबी शैम्पू की बिक्री पर रोक लगाने के लिए कहा है।

 

प्रॉडक्ट्स में पाए गए हानिकारक कैमिकल्स

राजस्थान ड्रग्स कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन ने 5 मार्च को जारी नोटिस में कहा है कि 2 जगहों से लिए गए जॉनसन बेबी शैंपू के नमूने क्वालिटी टेस्ट में फेल हो गए हैं क्योंकि उनमें 'हानिकारक तत्व' पाए गए हैं।

PunjabKesari

बेबी प्रोड्क्ट्स में पाए गए कैंसर तत्व

ड्रग्स रेगुलेटर की तरफ से यह कदम जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ लगे आरोप के बाद उठाया गया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 100 साल से भी पुरानी इस कंपनी के प्रोडक्ट्स में कैंसर पैदा करने तत्व पाए गए हैं। इस फैक्ट्री से बेबी पाउडर का सैंपल एकत्र कर लिया है।

क्वालिटी टेस्ट भी फेल हो गया है शैंपू

इतना ही नहीं, जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के बेबी पाउडर के कैंसरकारक साबित होने के बाद अब उसके बेबी शैंपू का क्वालिटी टेस्ट भी फेल हो गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, इन बेबी पाउडर के नमूनों में फॉर्मल्डिहाइड पाया गया था, जोकि दवाइयां बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इससे बच्चों में कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि कंपनी के प्रवक्ता ने इस जांच के परिणाम को स्वीकार नहीं किया है लेकिन फिलहाल इसके उत्पादन और ब्रिकी पर रोक लगा दी गई है।

PunjabKesari

क्या होता है फॉर्मल्डिहाइड?

फॉर्मल्डिहाइड एक ऐसा जैविक तत्व है, जिसका इस्तेमाल लकड़ी पर की जाने वाली केमिकल कोटिंग, कपड़ों को सिल्वट से बचाने वाली कोटिंग से लेकर बिजली के उपकरणों, भवन निर्माण सामग्रियों, दरवाजे के पैनल, आदि में किया जाता है।

कंपनी का दावा

जॉनसन एंड जॉनसन ने हिमाचल प्रदेश से सैंपल लिए जानें पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। हालांकि मंगलवार को कंपनी ने दावा किया था कि बेबी पाउडर में कैंसर के कण पाए जाने की खबर एकतरफा और पूरी तरह गलत है। कंपनी ने यह भी दावा किया कि एक लाख से अधिक लोगों पर किए गए रिसर्च में भी किसी को कैंसर होने के प्रमाण नहीं मिले हैं।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad