13 DECFRIDAY2019 4:04:35 PM
Nari

'ड्रीम गर्ल' नुसरत भरूचा भी रह चुकी हैं डिप्रेशन का शिकार, कहा, 'जब मैं रातभर रोती तो...'

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 13 Sep, 2019 09:40 AM
'ड्रीम गर्ल' नुसरत भरूचा भी रह चुकी हैं डिप्रेशन का शिकार, कहा, 'जब मैं रातभर रोती तो...'

चकाचौंथ से भरी बॉलीवुड इंडस्ट्री बाहर से जितनी खूबसूरत दिखती हैं अंदर से उतनी ही मुश्किल है। यही कारण है कि बॉलीवुड के कई फेमस सितारें डिप्रेशन का शिकार हो चुकें है। बता दें कि परवीन बाबी से लेकर दीपिका पादुकोण, अनुष्‍का शर्मा और परिणीति चोपड़ा भी डिप्रेशन का शिकार रह चुकी है। जहां कई सितारें इस बारे में बात करने से भी कतराते हैं वहीं एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण, अनुष्‍का शर्मा और परिणीति चोपड़ा ने तो डिप्रेशन को लेकर खुलासा भी किया था।

 

वहीं अब अपनी फिल्म 'ड्रीम गर्ल' को लेकर चर्चा में बनी हुई एक्ट्रेस नुसरत भरूचा ने भी अपने डिप्रेशन को लेकर खुलासा किया है।  जी हां, हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान नुसरत ने बताया कि उनकी लाइफ में एक दौर ऐसा भी था जब वो डिप्रेशन से गुजरी थीं। उन्होंने कहा, 'मैंने बतौर एक्टर व परफॉर्मर के तौर पर अपना आत्मविश्वास खो दिया था। मैं कहती थी कि मैं एक्टिंग नहीं कर सकती। मुझे बहुत खालीपन लगता था, बहुत कुछ ऐसी चीजें थीं जिनका मुझे ही पता नहीं था।'

PunjabKesari

आगे वह बताती हैं, 'मैरे पेरेंट्स को इस बात की जानकारी थी कि मैं परेशान हूं। जब मैं रातभर रोती थी तो उन्हें पता होता था। ईमानदारी से कहूं तो डिप्रेशन से निकलने और इंडस्ट्री में टिके रहने के लिए मेरे परिवार ने ही मुढे हिम्मत दी। अगर उनका साथ नहीं होता तो शायद मैं वापस उसी शहर वापस लौट जाती जहां से मैं आई हूं।'

PunjabKesari

क्या है डिप्रेशन?

डिप्रेशन एक तरह की मानसिक बीमारी हैं जो धीरे-धीरे इंसान के दिमाग पर इस कद्र हावी हो जाती हैं कि जिंदगी जीने के प्रति उसकी किसी प्रकार की रूचि नहीं रहती। वह अकेलेपन का शिकार होकर अंदर ही अंदर घूटता रहता है। इसमें इंसान दुख, हानि, व्यर्थता और अक्षमता की सर्वव्यापी भावना का अनुभव करता है। इतना ही नहीं, उसके मन में आत्महत्या करने जैसे खयाल भी आते हैं। डिप्रेशन भावात्मक अथवा मूड डिसऑर्डर माना जाता है।

दुनियाभर में 30 करोड़ लोग डिप्रेशन का शिकार

विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार,30 करोड़ (300 मिलियन) लोग विश्वभर में अवसाद की समस्या से जूझ रहे हैं। वहीं हर साल 8,00,000 लोग आत्महत्या कर लेते हैं, जबकि 15 से 29 आयु वर्ग के बीच मृत्यु का दूसरा सबसे बड़ा कारण आत्महत्या बन चुका है।

PunjabKesari

डिप्रेशन के आम लक्षण

निरंतर बदलती मनोदशा, चिंता, आंदोलन और उदासीनता
अनिद्रा
सुबह उठने में कठिनाई
थकान और सुस्ती रहना 
अधिक खाने या इसके विपरीत भूख की कमी
शरीर में अकारण दर्द और मोच लगना
शराब, तंबाकू और कैफीन की खपत बढ़ना
आत्महत्या का ख्याल 
ध्यान लगाने में मुश्किल 
काम करने में अधिक समय लेना।
सब कुछ बेकार लगना, निराशा और असहाय भावनाएं

डिप्रेशन से बचने के कुछ उपाय

-ऐसे समय में परिवार और दोस्तों के साथ रहना बहुत जरूरी है इसलिए अपने परिवार व दोस्तों के  साथ ज्यादा समय बिताएं।
-रोजाना व्यायाम, वॉक, जॉगिंग, व योग करें। इससे मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है और पॉजिटिविटी को बढ़ावा मिलता है। 
-डाइट में फल, सब्जियां, मांस, कम वसा वाले डेयरी खाद्य पदार्थ और मछली लें और भरपूर पानी पीएं।
-ऑफिस के काम को घर पर न लाएं। काम से संबंधित स्ट्रेस का मुकाबला करने के अपने तरीके इजाद करें।
-शराब, तंबाकू और कैफीन मानसिक स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाते हैं इसलिए इनसे दूर रहें।
-अगर कोई व्यक्ति डिप्रेशन या तनाव से जूझ रहा है तो उसे अकेला ना छोड़ें। इससे उसके मन में आत्महत्या का ख्याल पनप सकता है।
-डिप्रेशन से निपटने का सबसे अच्छा तरीका है अपनी पसंद का म्यूजिक सुनना।
-पूरी नींद ना लेना व्यक्ति में डिप्रेशन का सबसे बड़ा काम है, जो आगे चलकर सुसाइड का कारण बन सकता है।

वर्कफ्रंट की बात करें तो ड्रीम गर्ल हीट होने के बाद नुसरत अपनी अगली फिल्म 'तुर्रम खां' की तैयारी में जुट गई हैं। हंसल मेहता की इस फिल्म में वह एक्‍टर राजकुमार राव के अपोजिट स्क्रीन शेयर करेंगी। इस फिल्म को लव रंजन और अजय देवगन प्रोड्यूस कर रहे हैं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News