31 OCTSATURDAY2020 10:34:51 AM
Nari

विज्ञान भी बेस्ट मानता है नानी मां के बताए ये 7 नुस्खे

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 07 Oct, 2020 03:57 PM
विज्ञान भी बेस्ट मानता है नानी मां के बताए ये 7 नुस्खे

पुराने समय में लोग अपनी छोटी-बड़ी हैल्थ को दूर करने के लिए घरेलू नुस्खों का सहारा लेते थे। बदलते समय के साथ दादी-नानी के इन नुस्खों की जगह दवाइयों और पेनकिलर ने ले ली लेकिन कुछ नुस्खे ऐसा भी है, जिन्हें वैज्ञानिक भी सही मानते हैं। हम आपको ऐसे ही कुछ 5 नुस्खो के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें डॉक्टर्स खुद इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं।

 

वजन घटाने के लिए शहद-नींबू की चाय

वजन कम की बात हो तो लोगों के जहन में सबसे पहले डाइटिंग व जिम का ख्याल आता है। मर आप दादी मां के नुस्खे से भी इस समस्या को हल कर सकते हैं। जी हां, शहद व नींबू का चाय वजन घटाने में काफी फायदेमंद है। साथ ही यह लिवर व किडनी को डिटॉक्स करने में भी मदद करती है, जिससे आप कई हैल्थ प्रॉब्लम्स से बचे रहते हैं। इससे पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती है।

PunjabKesari

सिरदर्द के लिए पुदीने की चाय

सिरदर्द में अक्सर लोग पेनकिलर्स की तरफ भागते हैं लेकिन इसके लिए सिर्फ 1 कप पुदीने की चाय ही काफी है, जिससे डॉक्टर्स भी पीने की सलाह देते हैं। इसे अलावा आप पुदीने के तेल से मालिश भी कर सकते हैं। इससे न सिर्फ सिरदर्द दूर होता है बल्कि नींद भी अच्छी आती है।

अनिद्रा दूर करे कैमोमाइल चाय

प्राचीन समय में लोग कैमोमाइल का इस्तेमाल अपनी हैल्थ प्रॉब्लम्स से छुटकारा पाने के लिए करते थे। वहीं डॉक्टर्स की माने तो इसकी चाय का सेवन करने से आप गैस, मांसपेशियों में खिंचाव, अनिद्रा, अनियमित माहवारी, पीरियड्स दर्द, किडनी और तिल्ली से जुड़ी परेशानियों को दूर कर सकते हैं।

मैग्‍नीशियम देता है अच्‍छी नींद

मैग्नीशियम जहां हडिड्यों को मजबूत बनाने के लिए जरूरी है वहीं इससे शरीर को ठीक से कार्य करने के लिए ऊर्जा भी मिलती है। साथ ही यह इम्यून सिस्टम व ब्लड शुगर को भी कंट्रोल में रखता है। इतना ही नहीं, मैग्नीशियम फूड्स का सेवन सिरदर्द, अनिद्रा, स्‍लीप डिसऑर्डर, डिप्रेशन को दूर करने में भी मददगार है।

PunjabKesari

ज्‍यादा बीमार हों तो स्‍पंज बॉथ

अक्सर लोग हल्के बुखार में दवा लेते हैं लेकिन अगर आप ज्यादा बीमार है तो स्पंज बॉथ आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए रोगी को एक चादर से ढ़क दें। अब भीगे हुए तौलिए या दस्‍ताने रोगी के पूरे शरीर को साफ करें। इसके बाद उसकी कमर को स्‍पंज करें। फिर रोगी के शरीर को पोंछकर सुखा लें। इससे बुखार गायब हो जाएगा।

चोट के लिए हल्दी

हल्दी एक महत्वपूर्ण औषधि है, जिसका इस्तेमाल भारतीय रसोई में खाने में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। वहीं कुछ लोग घाव लगने पर हल्दी की पट्टी भी करते हैं, जो वैज्ञानिक नजरिए से भी सही है। एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर हल्दी घाव भरने में मदद करती है। वहीं इसका सेवन आपको कई हैल्थ प्रॉब्लम्स से बचाने में मदद करता है।

दांत दर्द के लिए लौंग

दांत दर्द होने पर अक्सर बड़े बुजुर्ग लौंग से कुल्ला करने की सलाह देते हैं। वहीं वैज्ञानिकों की मानें तो लौंग दांत दर्द दूर करने में काफी फायदेमंद है। इतना ही नहीं, कई टूथपेस्ट बनाने के लिए तो लौंग का इस्तेमाल भी किया जाता है। ऐसे में अगर आपके दांत में भी दर्द हो तो बेझिझक इसका इस्तेमाल करें।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News