15 OCTTUESDAY2019 7:08:34 PM
Nari

हेयर प्रोडेक्ट ही नहीं इन 6 कारणों से भी झड़ते है बाल

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 11 Jul, 2019 03:57 PM
हेयर प्रोडेक्ट ही नहीं इन 6 कारणों से भी झड़ते है बाल

मौसम कोई भी हो, अक्सर महिलाओं में झड़ते बालों की समस्या पाई जाती हैं। झड़ते हुए बाल सोने के तकिए से लेकर कमरे, बाथरुम हर जगह गिरे हुए मिलते है। रिसर्च की माने तो एक दिन में 80 स्ट्रैंड्स का खोना आम बात है, लेकिन जब यह वापस नहीं बढ़ते है तो यह एक समस्या हो सकती हैं। बाल झड़ने के कई कारण हो सकते है लेकिन महिलाओं में आमतौर पर ये छह कारण पाए जाते है। आईए जानते है क्या है ये 6 कारण और इनकी रोकथाम। 

आहार में बदलाव 

अगर आप अपने आहार में परिवर्तन कर रहे है या कैलोरी को कम कर रहे है तो बाल झड़ सकते हैं। कई बार आहार में परिवर्तन करने से हमारे भोजन में से पोषण खत्म हो जाता हैं। अधिकतर लोगों को प्रति किलोग्राम 0.8 ग्राम प्रोटीन खाना चाहिए। अक्सर प्रोटीन की कमी के कारण बाल झड़ने लगते हैं। 

PunjabKesari

विटामिन की कमी 

अगर बॉडी में विटामिन बी 12 या डी की कमी है तो आपके बाल झड़ सकते है। यह बालों के विकास के साथ स्वस्थ खोपड़ी में भी मदद करते हैं। बी 12 के मांस या डेयरी प्रोडेक्ट और विटामिन के लिए डॉक्टर से बात करके मल्टीविटामिन और डाइट में फ्रूटस शामिल करें। 

गर्भनिरोधक गोलियां

अगर आपने अपनी प्रेग्नेसी रोकने या जो गोली ले रही है उसमें परिवर्तन किया है तो यह आपके बालों के प्रभावित कर सकता हैं। इन गोलियों में प्रोजेस्टेरोन पाया जाता है जो कि बाल झड़ने की समस्या को बढ़ाते हैं। गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से जरुर विचार करें। 

PunjabKesari

प्रेगनेंसी 

इस अवस्था के दौरान महिलाओं में अक्सर कई तरह के हार्मोनल परिवर्तन पाए जाते हैं। जिसमें बाल भी झड़ने लगते हैं। 3 से 4 महीने बाद यह सामान्य हो जाता हैं। 

PunjabKesari

हेयल स्टाल

कई बार हम अपने बालों के साथ विभिन्न तरह के हेयर स्टाइल बनाते है। लेकिन इसमें पोनी टेल या टाइट पोनी होती है। इससे हमारे बालों की  जड़े कमजोर हो कर टूटने लगती हैं। इसलिए कोशिश करें की आप अपने बालों को कोमल तरीके से रखें। 

PunjabKesari

हेयर ट्रीटमेंट 

आजकल लेडीज अपने बालों को लेकर की तरह के ट्रीटमेंट और एक्सपेरिमेंट करना पसंद करती हैं। जिसमें वह अपने बालों के नेचुरल कलर को चेंज कर अलग अलग तरह के कलर करवा लेती हैं। इन कलर को फिका होने से बचाए रखने के लिए विभिन्न तरह के रसायनिक प्रादर्थों का इस्तेमाल किया जाता हैं। 

PunjabKesari

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News