15 OCTTUESDAY2019 9:10:35 PM
Nari

ये हैं वो 5 औरतें, जिन्होंने ऑर्गेनिक ब्यूटी इंडस्ट्री में बनाई अलग पहचान

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 26 Jun, 2019 01:44 PM
ये हैं वो 5 औरतें, जिन्होंने ऑर्गेनिक ब्यूटी इंडस्ट्री में बनाई अलग पहचान

महिला हो या पुरुष आज हर कोई अपनी त्वचा का पूरा ध्यान रखना चाहती है, ताकि उन्हें किसी भी तरह की दिक्कत न हों। स्किन हमारी बॉडी  का पांचवा सबसे बड़ा हिस्सा है जो कि मौसम, सूरज, जानवरों से इफेक्ट होता हैं। हर कोई कोशिश करता है कि इसे जितना हो सकें  बचाया जा सकें। जिस तरह से लोग अपनी ब्यूटी पर ध्यान दे रहे है उस के मुताबिक ज्यादा लोग ब्यूटी और हेल्थकेयर पर पैसा खर्च करते हैं। 2016 से 21 तक इस कारोबार में 25 प्रतिशत तक की वृद्धि होगी। लोगों में बढ़ती हुई डिमांड व उन्हें कम दामों पर अच्छे नेचुरल प्रोडेक्ट उपलब्ध करवाने के लिए कई तरह के ब्रांड शुरु हुए हैं। खास बात यह है कि इन ब्रांडों को शुरु करने वाली और संभालने वाली सारी महिलाएं ही हैं। 

रिर्पोट की माने तो भारतीय रिटेल और कॉस्मेटिक का मार्केट अनुमान वर्तमान में 950 मिलियन डॉलर है।  जिसका 2020 तक 2.69 बिलियन डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। कई साल पहले जब कोई ब्रांड लांच होता था उसे लोगों तक पहुंचाने व उसके बारे में बताने में काफी मेहनत करनी पड़ती थी लेकिन आज लोगों तक वहा आसानी से पहुंच जाते है। खास कर जब वह अच्छे प्रोडेक्ट हो तो वह लोगों के लिए यादगार बन जाते हैं। 

शुभिका जैन और संगीता जैन 

खुद के लिए नेचुरल प्रोडेक्ट बनाते हुए संगीता जैन व उनकी बेटी शुभिका ने मिलकर अपना ब्रांड शुरु किया। रायपुर में स्थित आरएएस लग्जरी ऑयल्स के इस ब्रांड में वेंचर नेचुरल, प्लांट बेस्ट इनग्रेडिएंट्स से बने प्रोडेक्ट की सीरिज तैयार की जाती हैं। मां बेटी ने अच्छे प्रोडेक्ट की रेंज उपलब्ध कराते हुए फार्म टू फेस वेंचर में खेती से लेकर तेल निष्कर्षण, सूत्रीकरण, पैकेजिंग, शिपिंग, मार्केटिंग सब खुद ही घर से करते है। इन प्रोडेक्ट्स की डिमांड ऑनलाइन होने के साथ साथ होटल व स्पा में हैं। 

PunjabKesari

मेघा अशर 

2014 में मेघा अशर ने इफेक्टिव स्किनकेयर सलूशन्स रैडी करते हुए जूसी कैमिस्ट ब्रांड की शुरुआत की। उन्होंने इस कंपनी की शुरुआत इसलिए की क्योंकि मार्किट में कैमिकल फ्री प्रोडेक्ट्स की बहुत ही आवश्यकता हैं। प्रोडेक्ट्स के लिए नेचुरल व आर्गेनिक मटेरियल का इस्तेमाल किया जाता हैं। हर प्रोडेक्ट पर उसमें इस्तेमाल किए गए मैटीरियल के बारे में बताया गया हैं। इन्हें बनाते हुए किसी भी तरह के कैमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता हैं। पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए प्रोडेक्ट की पैकेजिंग रीसाइकलिंग की जाती हैं। इनके ग्राहक न केवल देश में बल्कि अन्य 22 देशों में भी हैं। 

PunjabKesari
राधिका, जागृति और दीपिका चौधरी

बंगाल में पैदा हुई, गुजरात में पली बढ़ी, विदेश में अपनी पढ़ाई पूरी करने वाली तीन बहने इस समय स्किन योगा की मदद से चेहरे, बाल व शरीर के लिए विभिन्न तरह के प्रोडेक्स बना रही हैं। राधिका ने वैसे फैशन डिजाइनिंग, जागृति ने बिजनेस एजुकेशन और दीपिका ने फोटोग्राफी की स्टडी की हुई हैं। तीनों बहनों जब विदेश में पढ़ाई करके भारत वापिस आई तो उन्हें यहां के लाइफस्टाइल में काफी बदलाव महसूस हुआ। क्योंकि उनका जीवन खेतों के बीच में व्यतीत हुआ है इसलिए उन्हें आर्गेनिक जीवन जीने का फायदा पता हैं। इसके बाद उन्होंने अहमदाबाद में स्थित योगा सेंटर ज्वाइंन किया। उनके लिए प्रोडेक्ट की क्वालिटी बहुत जरुरी है क्योकि उन्हें पता है नेचुरल लाइफस्टाइल का क्या फायदा है। 

PunjabKesari

पूजा करेगौडर और तनुश्री दास

पूजा करेगौडर और तनुश्री दास एक  दूसरी की दोस्त रहते हुए आज कंपनी की सह संस्थापक हैं। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए और अपनी सारी सेविंग को लगाने के बाद 2016 में उन्होंने बॉडी कैफे की शुरुआत की।  जिसमें वह लोगों को स्किन केयर के लिए नेचुरल प्रोडेक्ट्स उपलब्ध करवाए जाते हैं। इनके इनग्रेडिएंट्स के लिए वह पूरे भारत में घूमने के साथ साथ विदेश में भी मंगवाए जाते हैं। इन प्रोडेक्टस की खास बात यह है कि इसमें इस्तेमाल होने वाले इनग्रेडिएंट्स हाथ से बनाए जाते हैं।

PunjabKesari

 दिव्या दिनेश, आशा दिनेश 

आशा दिनेश ने अपनी बेटी दिव्य के साथ मिलकर वेदाअर्थ प्रोडेक्ट को लांच किया था। आशा ने इसकी शुरुआत इसलिए की क्योंकि उनकी बेटी दिव्या की त्वचा संवेदनशील  है, जिसके कारण वह बाजार में उपलब्ध प्रोडेक्ट्स का इस्तेमाल नहीं कर सकती हैं। अगर वह करती है तो उसे काफी समस्या का सामना करना पड़ता हैं। इस समस्या का हल निकालने के लिए उन्होंने प्रोडेक्ट्स अपने हाथ से बनाने शुरु किया। उन्होंने अरोमाथेरेपी सीखी, जिसमें वह खुद तेल को मिश्रित करती और उनका इस्तेमाल करती। इसी से प्रेरित होकर उन्होंने अपनी ब्रांड लांच किया। इसमें प्राकृतिक व शाकाहारी साम्रगी का इस्तेमाल किया जाता हैं।
PunjabKesari

Related News