21 OCTMONDAY2019 6:07:26 PM
Nari

Women's Spl: महिला के लिए 10 जरूरी न्यूट्रीशस, बीमारियां रहेंगी कोसों दूर

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Mar, 2019 01:58 PM
Women's Spl: महिला के लिए 10 जरूरी न्यूट्रीशस, बीमारियां रहेंगी कोसों दूर

महिलाओं के लिए पोषक तत्व  : दिन भर में अलग-अलग रोल निभाते हुए महिलाएं अक्सर अपनी सेहत के साथ समझौता कर लेती हैं। बिजी लाइफस्टाइल और जिम्मेदारियों को निभाते-निभाते हेल्दी फूड नहीं लेती जिससे स्ट्रैस, थकान और स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानियां बढ़ने लगती है इसलिए महिलाओं को पोषक तत्वों की जरूरत पुरुषों से ज्यादा होती है। हार्मोन में बदलाव, पीरियड्स, मां बनने और मेनोपॉज के कारण महिलाओं के शरीर की जरूरतें भी बदलती रहती हैं। सिर्फ प्रोटीन, विटामिन और कैल्शियम ही नहीं बल्कि अन्य कई पोषक तत्वों का सेवन भी महिलाओं को रोज करना चाहिए ताकि वे अपनी जिम्मेदारियों के साथ-साथ अपनी हेल्थ का ध्यान भी रख सकें। जानते हैं महिलाओं को किन पोषक तत्वों की सबसे ज्यादा जरूरत होती है और  महिलाओं में पोषक तत्व की कमी को कैसे पूरा किया जाए।

 

पोषक तत्व के स्रोत

फोलिक एसिड

पीरियड्स और प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं के शरीर को फोलिक एसिड की बहुत ज्यादा जरूरत होती है। साथ ही इससे महिलाएं दिमागी प्रॉब्लम जैसे डिप्रेशन, माइग्रेन से भी बची रहती हैं। पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने के लिए अपनी डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां, एवोकाडो, ड्राई बीन्स, नट्स, मटर, ब्रोकली, खट्टे फल और दालों आदि को शामिल करें।

PunjabKesari

 

आयरन

शरीर में आयरन की कमी होने से न सिर्फ थकान महसूस होती है बल्कि इससे नींद भी नहीं आती साथ ही महामारी के कारण महिलाओं के शरीर में ब्लड की कमी हो जाती है ऐसे में उन्हें आयरन की ज्यादा जरूरत होती है। इसके लिए पालक, चावल, किडनी बीन्स, टमाटर, ब्रोकली, अंजीर, अखरोट, बादाम-काजू, किशमिश, खजूर और सफेद चने आदि का सेवन करें।

 

फाइबर

फाइबर पाचन क्रिया को दरुस्त रखने के लिए बहुत जरूरी है। 19 से 50 साल की महिलाओं को 25 ग्राम फाइबर रोजाना लेना चाहिए वहीं 51 से ऊपर वाली महिला को 21 ग्राम फाइबर रोजाना लेना चाहिए। इससे टाइप-2 डायबिटीज, दिल की बीमारियों और कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है। फाइबर के लिए आप सेब, अखरोट, ब्राऊन राइस, पालक, स्वीट कॉर्न, ब्रोकली, गाजर आदि का सेवन करें।

 

विटामिन्स

विटामिन व खनिज युक्त चीजों का सेवन भी महिलाओं के लिए बहुत जरूरी है। 19 वर्ष की आयु के बाद से ही महिलाओं को रोजाना कम से कम 75 ग्राम विटामिन लेना चाहिए। इसके लिए आप लाल शिमला मिर्च, अमरूद, संतरा, ब्रोकली और स्ट्राबेरी का सेवन कर सकती हैं। अंडे की जर्दी, टूना फिश और कैटफिश में भी विटामिन्स की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसके अलावा  महिलाओं में विटामिन की कमी को पूरा करने के लिए आप बादाम, पालक, शलगम, जैतून का तेल, नारियल तेल, एवोकाडो, ब्रोकली, पपीता आदि को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं।

PunjabKesari

प्रोटीन

महिला को हर रोज करीब 45 ग्राम प्रोटीन की जरूरत होती है। इससे न सिर्फ हड्डियां मजबूत होती है बल्कि महिलाएं कई बीमारियों से भी बची रहती हैं। इसकी कमी को पूरा करने के लिए आप अपनी डाइट में चिकन, रेड मीट, मछली, काजू और बादाम का सेवन कर सकते हैं।

 

मैग्नीशियम

मैग्नीशियम नाड़ियों व मांसपेशियों को मजबूती देता है। साथ ही इससे ब्लड प्रैशर भी कंट्रोल में रहता है, जिससे महिलाएं दिल की बीमारियों से बची रहती हैं। इसके स्रोत कददू के बीज, पालक, काले बिन्स, नट्स, चावल, दालें, एवोकाडो और हरी पत्तेदार सब्जियां हैं। आप इसे अपनी डाइट में शामिल करें।

 

ओमेगा-3 फैटी एसिड

प्रत्येक महिला के लिए प्रतिदिन 1.1 ग्राम ओमेगा-3 फैटी एसिड लेना जरूरी है। यह आपको सॉलमन, मैक्‍रेल, ट्यूना और हेरिंग जैसी म‍छलियों में मिलता है। इसके अलावा नट्स व बीजों, खासतौर पर चिया और अलसी के बीजों का सेवन भी किया जा सकता है।

PunjabKesari

 

कैल्शियम

30-35 की उम्र के बाद हर महिला को कैल्शियम की ज्यादा जरूरत होती है क्योंकि यह हड्डियों को मजबूत बनाकर गठिया जैसी प्रॉब्लम को दूर रखता है। शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए आप अपनी डाइट में काले बिन्स, दूध, दही, पनीर, पालक, हरी पत्तेदार सब्जियां, तिल के बीज, आरेंज, सोया मिल्क और बादाम आदि शामिल करें।

 

पोटेशियम

पोटेशियम से हड्डियां स्वस्थ रहती है और इससे शरीर एनर्जेटिक भी रहता है। साथ ही इससे दिल की बीमारी, हाई ब्लड प्रैशर, हार्ट अटैक और कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है। पोटेशियम के लिए आप केला, संतरा, फलों का रस, खीरा, एवोकाडो, अखरोट, बीन्स, शकरकंदी और पालक का सेवन कर सकते हैं।

 

एंटीऑक्सीडेंट

एंटीऑक्सीडेंट कैंसर, दिल के रोग, स्ट्रोक और बुढ़ापे की बीमारियां को दूर रखने में मददगार होता है। साथ ही यह महिलाओं को स्ट्रैस-फ्री रखने के साथ-साथ झुर्रियों को भी दूर रखता है। ऐसे में डाइट में भूनी हुई लौंग, अखरोट, राजमा, ब्रोकली और मूंगफली आदि को शामिल करें।

PunjabKesari

Related News