30 SEPWEDNESDAY2020 10:53:16 AM
Life Style

वाह! स्कूल टीचर ने अपनी शादी में लगवाए ब्लड डोनेशन कैंप, बच्चों में बांटी मुफ्त किताबें

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 16 Sep, 2020 05:26 PM
वाह! स्कूल टीचर ने अपनी शादी में लगवाए ब्लड डोनेशन कैंप, बच्चों में बांटी मुफ्त किताबें

कोरोना काल के कारण जहां वातावरण में बड़ा बदलाव देखने को मिला वहीं इसके कारण शादी के रिवाजों में भी काफी बदलाव आए हैं। जहां पहले शादी के लिए 500 लोगों को बुलाया जाता था वहीं अब लोग सिर्फ 50-100 लोगों के साथ शादी कर रहे हैं। कुछ लोग तो ऐसे भी हैं जो बिना मेहमान और बिना दहेज लड़की को विदा कर ले जा रहे हैं। मगर, हाल ही में एक कपल ने ऐसे शादी रचाई जिसने सभी का दिल जीत लिया।

ब्लड डोनेट कैंप में रचाई इस कपल ने शादी

दरअसल, पश्चिम बंगाल नादिया जिले की रहने वाली 28 साल की नूरजहां खातून ने हाल ही में अपनी शादी का फंक्शन आयोजित किया था। मगर, उन्होंने जिस अंदाज में फंक्शन रखा, वो तारीफ के काबिल है। पेशे से फिलॉसफी टीचर नूरजहां ने अपनी शादी किसी मंदिर, चर्च या पैलेस नहीं बल्कि ब्लड डोनेशन कैंप में की।

PunjabKesari

बच्चों को बांटी किताबें

जी हां, नूरजहां ने अपनी शादी पर कोई पार्टी नहीं बल्कि ब्लड डोनेशन कैंप आयोजित करवाया था। यही नहीं उन्होंने जिले के स्कूली बच्चों को मुफ्त किताबें भी बांटी, ताकि उन्हें पढ़ाई में कोई दिक्कत ना हो। बता दें कि नूरजहां की शादी जिस शख्स से हुई वह खुद भी एक टीचर है।

32 लोगों ने किया ब्लड डोनेट

उनके शादी के मौके पर रिश्तेदार और पड़ोसियों सहित 32 लोगों ने खून दान किया। एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए नूरजहां ने बताया कि उन्होंने कोरोना के चलते ऐसा किया है क्योंकि खबर मिली थी कि कोविड-19 के दौरान ब्लड बैंक में खून की कमी हो गई है इसलिए उन्होंने ये छोटा-सा प्रोग्राम रखा है।

रिश्तेदारों को बांटे पौधे

नूरजहां के पिता रूस्तम अली शेख को बेटी के इस काम पर नाज है। यही नहीं, शादी में शरीक होने वाले रिश्तेदार व पड़ोसी भी उनके इस काम से काफी खुश है। शादी में खून और किताबों के साथ उन्होंने एक ओर अच्छा काम किया। दरअसल, उन्होंने शादी में शामिल हुए रिश्तेदार व पड़ोसियों को गिफ्ट के रूप में पौधों दिए।

वाकई... शादी के फंक्शन में भोजन और ताम-झाम पर पैसे बर्बाद करने की बजाए नूरजहां ने जो कदम उठाया है वो तारीफ के काबिल है। सिर्फ नूरजहां ही नहीं बल्कि हम सभी को शादी में वेस्ट करने की बजाए ऐसे ही काम करने चाहिए।

Related News