29 JULTHURSDAY2021 11:59:20 PM
Life Style

मुंबई पुलिस की 'मदर टेरेसा' रेहाना शेख, उठाई 50 बच्चों की पढ़ाई का खर्च

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 16 Jun, 2021 12:13 PM
मुंबई पुलिस की 'मदर टेरेसा' रेहाना शेख, उठाई 50 बच्चों की पढ़ाई का खर्च

जहां पुलिस हमेशा सवालों से घिरी रहती हैं वहीं कुछ ऐसे अफसर भी हैं, जो कई लोगों के लिए मिसाल बने हैं। हाल ही में मुंबई महिला पुलिस अफसर की एक ऐसी ही कहानी सामने आई है। हम बात कर रहे हैं मुंबई पुलिस की मदर टेरेसा रेहाना शेख की, जिन्होंने ना सिर्फ जरूरतमंद बच्चों की पढ़ाई की जिम्मेदारी ली बल्कि कोरोना मरीजों की मदद के लिए भी हाथ बढ़ाया।

रेहाना ने पेश की ​मानवता की मिसाल

मुंबई पुलिस में तैनात 40 वर्षीय सब इंस्पेक्टर रेहाना मानवता की एक अद्भुत मिसाल है। उन्होंने 50 जरूरतमंद बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने का फैसला किया है, जिसके बाद लोग उन्हें मदर टेरेसा कह रहे हैं। 

PunjabKesari

मुंबई कमिश्नर ने किया सम्मानित

उनके इस ने काम व पुलिस ड्यूटी के साथ सामाजिक जिम्मेदारी निभाने के लिए मुंबई पुलिस के कमिश्नर हेमंत नगराले ने उन्हें सम्मानित भी किया। उन्होंने रेहाना को अपने ऑफिस बुलाकर अपने हाथों से सर्टिफिकेट दिया।

PunjabKesari

ईद और बेटी के बर्थडे की सेविंग को किया बच्चों पर खर्च

उन्होंने रायगढ़ के 10वीं छात्रों की पढ़ाई का खर्च उठाने का वादा किया है। उन्होंने बताया कि पिछले साल रायगढ़ प्रिंसीपल से बात करके वहां पहुंची। तब उन्होंने देखा की वहां, बहुत से बच्चे गरीब परिवार है और कुछ के पास तो पहनने के लिए चप्पल तक नहीं है। ऐसे में उन्होंने ईद और बेटी के जन्मदिन से बचे सेविंग को उनकी पढ़ाई के लिए खर्च कर दिया।

लगातार कर रहीं कोरोना मरीजों की मदद

यही नहीं, वह कोरोना मरीजों की सेवा में भी जुटी हुई हैं। उन्होंने डिपार्टमेंट के कई लोगों से मरीजों को खून, प्लाज्मा और हॉस्पिटल में बेड देने की गुजारिश की। उन्होंने इसके लिए व्हाट्सअप ग्रुप भी बनाया है। यही नहीं, पिछले एक साल वह मांओं की मदद के लिए भी आगे आई। दरअसल, एक कॉन्सटेबल मां को इंजेक्शन के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी, जिसके बाद से उन्होंने कई महिलाओं की मदद की।

PunjabKesari

एथलीट भी हैं रेहाना शेख

वह साल 2000 में बतौर सब कॉन्सटेबल पुलिस फोर्स से जुड़ी। नेक इंसान, बढ़िया पुलिसकर्मी के साथ रेहाना बहुत अच्छी खिलाड़ी भी हैं। अपनी फोर्स का प्रतिनिधित्व करते हुए उन्होंने 2017 में 1 गोल्ड मेडल जीते थे

पति भी हैं मुंबई पुलिस का हिस्सा

बता दें, रेहाना के पिता अब्दुल नबी बागवान भी मुंबई पुलिस में हैं। वह ना सिर्फ अपनी पत्नी को सपोर्ट करते हैं बल्कि हर कदम पर उनके साथ भी खड़े हैं। इसके अलावा वही अपनी पत्नी को प्यार से मदर टेरेसा कहकर बुलाते हैं।

PunjabKesari

Related News