18 AUGSUNDAY2019 2:07:02 AM
Life Style

एक ग्लैमर्स तो दूसरी थीं सीधी-सादी, शादी ने बदली दोनों की लाइफ, जानिए 'अंबानी बहुओं' की स्टोरी

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 22 Jul, 2019 12:03 PM
एक ग्लैमर्स तो दूसरी थीं सीधी-सादी, शादी ने बदली दोनों की लाइफ, जानिए 'अंबानी बहुओं' की स्टोरी

अंबानी परिवार की दोनों बहुएं नीता अंबानी और टीना अंबानी अपने अलग स्टाइल के लिए जानी जाती हैं। नीता अंबानी लाइमलाइट में रहती है जबकि टीना अंबानी लाइमलाइट से कोसो दूर है। शादी के बाद अंबानी परिवार की दोनों बहुओं का लाइफस्टाइल काफी बदल गया। जहां शादी से पहले नीता ग्लैमर्स लाइफ से बेखबर थी वहीं टीना बरसो पहले इस दुनिया से निकल आईं थी। नीता अंबानी एक प्राइमरी स्कूल टीचर थीं और फैशन की दुनिया से दूर। वहीं, टीना अंबानी के साथ बिल्कुल उलटा हुआ। टीना ने बॉलीवुड में 35 से ज्यादा फिल्में की हैं लेकिन शादी के बाद उनका ग्लैमर्स की दुनिया से नाता मानो टूट गया। चलिए आज हम आपको नीता और टीना अंबानी की लाइफ से जुड़ी कुछ बातें बताते हैं जिनके बारे में शायद ही आप जानते हो। 

 

गुजराती परिवार में जन्मीं टीना की मुंबई में हुई परवरिश

पहले बात करते हैं टीना अंबानी की। गुजराती जैन परिवार में जन्मीं टीना की परवरिश मुंबई में हुई। टीना शुरू से ही ग्लैमर्स लाइफ जीना पसंद करती थी। साल 1975 में इन्होंने इंटरनेशनल टीन प्रिंसेस कॉन्टेस्ट में भारत का प्रतिनिधित्व किया था और मिस फोटोजेनिक और मिस बिकिनी अवॉर्ड्स जीते थे। टीना के बिकनी एक्ट से ही प्रभावित होकर देव आनंद ने उन्हें फिल्म देस परदेस में कास्ट किया था। टीना के फैशन स्टाइल और ब्यूटी ने अनिल अंबानी को दीवाना बना दिया, जिस वजह से उन्होंने टीना से शादी करने का फैसला लिया। शादी के बाद टीना ने फिल्मी दुनिया से दूरी बना ली। 

PunjabKesari

शादी के बाद हुई ग्लैमर्स दुनिया से दूर 

अब वह सिर्फ सलवार सूट या साड़ी में नजर आती है। वह कभी-कभार गाउन या मिनी ड्रैसेज में दिखती है। टीना अपना मेकअप और आउटफिट खुद ही पसंद करती है। खबरों की मानें तो साल 2008 में टीना के जन्मदिन पर अनिल ने उनके लिए एक लग्जरी याट खरीदी थी। इसका नाम टियान (Tian) रखा गया था। टीना वरिष्ठ नागरिकों के लिए मुंबई में हार्मनी फाउंडेशन चलाती हैं। 

PunjabKesari

अब बात करते हैं नीता अंबानी की... 

नीता अंबानी का जन्म एक मिडल क्लास फैमिली में हुआ। घर चलाने के लिए नीता 800 रुपए महीने की तनख्वाह पर स्कूल में टीचर की नौकरी करती थी। उस वक्त नीता फैशन और ग्लैमर्स की दुनिया से बिल्कुल अनजान थी क्योंकि वो सिर्फ अपने परिवार की स्थिति को सुधारने में लगी हुई थी।

 

800 रुपए महीने की तनख्वाह पर नौकरी करती थी नीता

एक दिन बिडला परिवार के पर्सनल आवास पर एक प्रोग्राम रखा गया जिसमें नीता अंबानी ने भरतनाट्यम किया था। नीता अंबानी के डांस से मुकेश के पिता धीरूभाई अंबानी काफी प्रभावित हो गए और उन्होंने नीता को अपने घर की बहू बनाने का फैसला लिया। शादी के बाद नीता अंबानी ने ना केवल अपना फैशन सेंस और लाइफस्टाइल बदला बल्कि उन्होंने अंबानी परिवार के बिजनेस को भी बखूबी संभाला।  

PunjabKesari

शादी के लिए मुकेश के सामने रखी थी शर्त 

मुकेश और नीता अंबानी ने वर्ष 2010 में रिलायंस फाउंडेशन की स्थापना की जिसकी संस्थापक व चेयरपर्सन नीता अंबानी ही रहीं। शायद ही कोई जानता हो कि नीता ने शादी के लिए मुकेश अंबानी के सामने एक ही शर्त रखी थी। उन्होंने मुकेश से कहा था कि वो एक ही शर्त पर शादी करेंगी कि शादी के बाद उन्हें काम करने से नहीं रोका जाएगा। 

PunjabKesari

सादगी और शिक्षण के प्रति नीता का काफी लगाव 

शादी के बाद भी उनकी टीचरशिप चलती रही मगर जिस स्‍कूल में वो नौकरी करती थीं वहां के प्रिंसिपल को ये नहीं पता था कि वे किस परिवार की बहू हैं। वर्ष 1987 के दौरान जब रिलायंस की स्‍पांसरशिप में क्रिकेट विश्‍व कप के एक मैच में प्रिंसिपल ने नीता अंबानी को वीआईपी बॉक्‍स में देखा तो वे हैरत में पड़ गए। बाद में पूछने पर उन्‍हें पता चला कि वो यहां अंबानी परिवार की बहू की हैसियत से आईं हैं।

 

बता दें कि नीता अंबानी सादगी और शिक्षण के प्रति काफी लगाव रखती हैं, यहीं वजह रहीं कि उन्होंने शादी के बाद भी बच्चों को शिक्षा देना जारी रखा।


 

Related News

From The Web

ad