18 JUNTUESDAY2019 8:48:55 PM
Life Style

फतेहवीर की मौत दे गई पेरेंट्स को सबक, बरतनी जरूरी हैं ये सावधानियां

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 13 Jun, 2019 06:04 PM
फतेहवीर की मौत दे गई पेरेंट्स को सबक, बरतनी जरूरी हैं ये सावधानियां

जब घर में नन्हे-मुन्ने का जन्म होता है तो परिवार में हर कोई खुश होता है। परिवार के सभी सदस्य बच्चे की खास केयर करते हैं लेकिन जैसे ही बच्चा थोड़ा बड़ा हो जाता है तो पेरेंट्स उसे लेकर बेफ्रिक हो जाते हैं जबकि उस समय उन्हें सबसे ज्यादा केयर की जरूरत होती है। आजकल बच्चों को लेकर बढ़ती हुई दुघर्टनाओं को लेकर तो यह और भी जरूरी हो गया है।

प्रशासन के साथ पेरेंटस की भी थी लापरवाही 

हाल ही में 2 साल के फतेहवीर की बोरवेल में गिरने के कारण मौत हो गई। उस बच्चे की मौत की जिम्मेदार जितनी प्रशासन है उतने ही पेरेंट्स भी हैं। प्रशासन को पता था कि वह पर बोरवेल है तो उन्हें इसे बंद करवा देना चाहिए, अगर प्रशासन यह काम नहीं कर रहा था तो वहां के लोगों को इसकी शिकायत करनी चाहिए थी।  इतना ही नहीं पेरेंट्स को ध्यान रखना चाहिए कि उस बोरवेल के पास बच्चे न जाए, ताकि उन्हें किसी तरह का समस्या का सामना न करना पड़े।  अगर उन्होंने अपने बच्चे का थोड़ा-सा ध्यान रखा होता तो फतेहवीर आज जिंदा होता।

PunjabKesari

इतना ही नहीं, कुछ समय पहले अलीगढ़ में एक ढाई साल की बच्ची को किडनैप करके, उसके शरीर के टुकड़े करके, उस पर एसिड डालकर उसकी हत्या कर दी गई। ऐसी घटनाओं को देखते हुए पेरेंट्स को थोड़ा और अलर्ट होने की जरूरत है।

 

बच्चे का रखें खास ध्यान

-जब बच्चे घर से बाहर हो तो उनका खास ख्याल रखें। उन्हें समझाएं कि किसी अंजान व्यक्ति से ना ही बात करें और ना ही किसी अंजान जगह पर जाएं।
-अगर बच्चा बाहर खेल रहा है तो पेरेंट्स को उनके साथ रहना चाहिए।
-अगर आपका बच्चे घुटनों के बल चलता है तो उसे फर्श पर खेलने ना दें। साथ ही इस बात का भी ख्याल रखें कि उनके आस-पास नुकीली, धारदार या खुरदरी चीज ना हो।
-घर में बिजली के जितने भी प्वाइंट्स है उन्हें सेफ्टी सॉकेट कवर से ढककर रखें। इतना ही नहीं, बाहर जाते समय उन्हें बिजली के प्रोडेक्ट या प्वाइंट से दूर रखें।
-घर में कहीं भी नाली के ढक्कन खुले है तो उन्हें बंद करवा दें। वहां जाते हुए भी बच्चों को हमेशा अपने पास रखें, ताकि वह खुली नाली या गट्टर के पास न चले जाएं। 
-बालकनी की दीवारें अगर नीची है तो उन्हें ग्रिल लगाकर ऊंची करवाएं, वरना बच्चे वह पर चढ़ सकते हैं। 
-घर के बाहर उन्हें कभी भी अकेला खेलने के लिए न छोड़े, क्योंकि कई बार एक दम से कोई वाहन आ जाता है या कोई स्ट्रीट एनिमल उन्हें नुकसान पहुंचा सकता हैं।
-किचन में काम करते समय बच्चों को कभी भी गोद में न लें। जितना हो सकें उन्हें रसोईघर से दूर रखें। 
-बच्चों से पेपर, पेन, सिक्के, ज्यूलरी और डोरी जैसी चीजें दूर रखें।
-बच्चों को कभी भी कार की आगे की सीट पर न बिठाएं। उनके लिए स्पेशली कार की सीट बनवाएं। इसमें वह आराम व सुरक्षा से बैठ सकेंगे।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad