28 NOVSATURDAY2020 1:37:56 PM
Life Style

कोर्ट की वजह से अधूरी रही दिलीप-मधुबाला की लवस्टोरी, जानिए क्या था वो किस्सा!

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 11 Dec, 2019 05:07 PM
कोर्ट की वजह से अधूरी रही दिलीप-मधुबाला की लवस्टोरी, जानिए क्या था वो किस्सा!

बॉलीवुड में ‘ट्रेजडी किंग’ के नाम से मशहूर दिलीप कुमार आज अपना 97वां जन्मदिन मना रहे हैं। जन्मजिन के खास मौके पर इस उनके चाहने वाले उन्हें बधाई संदेश भेज रहे हैं। दिलीप कुमार ने अपने फैंस का शुक्रिया अदा करने के लिए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया है जिसमें उन्होंने लिखा- '97वें जन्मदिन पर, कल रात से कॉल और मैसेज आ रहे हैं। इसके लिए धन्यवाद। उत्सव महत्वपूर्ण नहीं हैं, लेकिन आपके असीम प्रेम, स्नेह और दुआओं को देखकर हमेशा मेरी आंखें कृतज्ञता के आंसुओं से नम हो जाती हैं।'

PunjabKesari

फिल्मों की तरह पर्सनल लाइफ भी रही ट्रेजडी भरी

जानकारी के लिए बता दें कि दिलीप साहब लंबे समय से बीमारी चल रहे हैं। ऐसे में पत्नी सायरा बानो ने सिर्फ उनका ख्याल रखती है बल्कि उनकी टि्वटर हैंडल भी पत्नी सायरा ही हैंडल करती हैं। दिलीप कुमार ने अपने फिल्मी करियर में एक से बढ़कर एक फिल्में दीं। वहीं फिल्मों की तरह उनकी पर्सनल लाइफ भी ट्रेजडी से भरी रही। आज हम उनकी और मधुबाला की अधूरी लवस्टोरी के बारे में बताते जा रहे हैं।

PunjabKesari

एक शर्त की वजह से टूटा था दिलीप-मधुबाला का रिश्ता 

1951 की फ़िल्म ‘तराना’ की शूटिंग के दौरान दिलीप कुमार और मधुबाला एक-दूसरे के करीब आए। इसके बाद दोनों 7 साल तक रिलेशनशिप में रहे लेकिन एक गलतफहमी की वजह से दोनों का रिश्ता टूट गया। कहा जाता है कि मधुबाला और दिलीप कुमार का रिश्ता टूटने की वजह बने थे मधुबाला के पिता अताउल्ला ख़ान।

PunjabKesari

दिलीप-मधुबाला एक-दूसरे से शादी करना चाहते थे मगर उनके पिता को यह रिश्ता मंजूर नहीं था। फिर जैसे-कैसे वो शादी के लिए तैयार हुए लेकिन शादी से पहले एक ऐसी शर्त रखी जिसे दिलीप कुमार ने ही मानने के मना कर दिया। मधुबाला के पिता एक प्रोडक्शन कंपनी चलाते थे। इसलिए उन्होंने दिलीप के आगे शर्त रखी कि शादी के बाद वो और मधुबाला उन्हीं की फिल्मों में काम करें जोकि दिलीप को बिल्कुल मंजूर नही था।

कोर्ट से जुड़े इस वाक्य से बिल्कुल बंद हुई थीं दोनों की बोलचाल 

दोनों का रिश्ता तब बिग़ड़ा जब मधुबाला और दिलीप कुमार बीआर चोपड़ा की फिल्म 'नया दौर' की शूटिंग साथ कर रहे थे। दरअसल, इस फिल्म की शूटिंग 40 दिनों तक आउटडोर होनी थी, लेकिन उनके मधुबाला के पिता इसके लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं हुए। इसी बीच बीआर चोपड़ा ने मधुबाला की जगह वैजयंतीमाला को साइन कर लिया। मधुबाला की वजह वैजयंतीमाला साइन तो कर लिया गया लेकिन यह मामला इतना बिगड़ा कि कोर्ट तक पहुंच गया जिससे दिलीप और मधुबाला की लवस्टोरी पर भी इफेक्ट पड़ा। इसके साथ ही दोनों की प्रेम कहानी भी अदालत पहुंच गई और दिलीप कुमार ने फिल्म के डायरेक्टर का साथ दिया और मधुबाला के खिलाफ कोर्ट में गवाही दी। दिलीप कुमार के इस बयान से मधुबाला को ना सिर्फ ठेस पहुंची बल्कि वो पूरी तरह से टूटकर बिखर भी गई। हालांकि इस बीच दोनों पहले से चल रही 'मुगल-ए-आजम' की शूटिंग में काम तो कर रहे थे लेकिन इस वाक्य के बाद दोनों की बोलचाल बिल्कुल बंद हो गई। दोनों साथ शूटिंग तो करते लेकिन रहते एक-दूसरे से अजनबियों की तरह।  

PunjabKesari

बुरे वक्त में सायरा बानो ने दिया था दिलीप को सहारा 

दिलीप कुमार के साथ प्यार में नाकामी मिलने के बाद मधुबाला ने किशोर कुमार के साथ शादी कर ली लेकिन मधुबाला की शादी के बाद दिलीप कुमार पूरी तरह टूट गए और उन्हें सहारा दिया सायरा बानो ने जिसके बाद दिलीप सायरा बानो के करीब आते गए और दोनों ने शादी कर ली। आज सायरा और दिलीप, दोंनो अपनी लाइफ एन्जॉय कर रहे, वहीं सायरा ने भी पति दिलीप का पूरी उम्र साथ दिया और आज भी उन्हीं की देखभाल में लगी रहती है।

Related News