Twitter
You are hereLife Style

शाही परिवार की लड़की को मानने पड़ते हैं ये 13 नियम

शाही परिवार की लड़की को मानने पड़ते हैं ये 13 नियम
Views:- Monday, January 14, 2019-7:35 PM

अधिकतर लोग सोचते है कि जिदंगी तो राजा-रानियों की हुआ करती है जो अपनी मर्जी से कुछ भी पहन व कर सकते हैं। अगर आपका सोचना भी यहीं है कि तो गलत हैं। क्योंकि शाही परिवार में रहना भी काफी मुश्किल हैं। उनके कुछ शाही नियम-कायदे होते है जिनका पालन शाही परिवार से सभी सदस्यों को करना पड़ता है। अब बात ब्रिटेन के शाही परिवार की बड़ी बहू केट मिडलटन की कर लीजिए। जिनकी जिंदगी शादी के बाद बिल्कुल बदल गई। उनसे पता चलता है कि साधारण लड़़की और रानी में क्या फर्क होता है। आइए जानते इन फर्क के बारे में।

 

ऑटोग्राफ नहीं, फोटोग्राफ लेने का नियम  

प्रिंसेस बनने के बाद केट को अपने फैंस के साथ फोटो खिंचवाने और हाथ मिलाने की अनुमति है वो उन्हें ऑटोग्राफ नहीं दें सकती। शाही नियमों के अनुसार, वह अपने सिगनेचर सिर्फ आधिकारिक दस्तावेजों पर कर सकती हैं। इस नियम का कारण क्वीन एलिजाबेथ का डर है। उनका सोचना है कि कोई उनके हस्ताक्षर का गलत इस्तेमाल न कर लें।

PunjabKesari

ऑफिस में काम करने की नहीं अनुमति

अपनी शादी से पहले, केट ने कुछ समय के लिए अपने माता-पिता के साथ उनके बिजनेस में हाथ बटाया लेकिन अब केट का काम सिर्फ चैरिटी डिनर, स्कूल और हॉस्टपिटल ओपनिंग जैसे इवेंट में शामिल होना हैं। 


मसल्स या ओस्टर, खाने पर मनाही

आपको याद होगा जब केट को ओस्टर से मना करने के लिए कहा गया तो केट कितनी परेशान थी। मानना है कि गलत तरीके से स्टोर होने वाले ओस्टर यानी सीप खाने से एलर्जी पैदा होती हैं जो शरीर के लिए जहर बन सकता है। इसलिए, डचेस और शाही परिवार के अन्य सदस्यों को अपने स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने से मनाही हैं। 

 

ब्राइट नेलपेंट नहीं, न्यूड कलर 

नेल्स पर कोई स्फटिक (rhinestones), शेवरॉन (chevrons) या कोई नेल आर्ट नहीं। ड्रेस कोड के अनुसार, डचेस ऑफ कैम्ब्रिज केवल न्यूड कलर्स की नेलपेंट लगा सकती हैं। केट के मैनीक्योर में आमतौर पर 2 शेड्स होते हैं, एक टेंडर पिंक (Tender Pink) और दूसरा ऑल न्यूड कलर। 

PunjabKesari

सोशल मीडिया पर होना चाहिए प्रोफाइल पेज

शाही परिवार में सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने पर सख्त मनाही हैं। यह नियम इसलिए है क्योंकि व्यक्तिगत जानकारी सार्वजनिक हो सकती है। ट्विटर और इंस्टाग्राम पर शाही परिवार के ऑफिशियल पेज हैं लेकिन वे पेशेवरों द्वारा नियंत्रित किए जाते हैं जो ध्यान से तस्वीरों का चुनाव करते हैं और पोस्ट करते हैं। 

 

पब्लिक प्लेस पर 'किस' करने पर मनाही

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने पब्लिक प्लेस पर इमोशन्स को जाहिर करने से मनाही की हैं और स्टिकली कहा कि वह पब्लिक प्लेस पर ठीक से व्यवहार करें। इस नियम के कारण, पिछले कुछ समय पहले केट और विलियम के बीच अनबन की अफवाहें फैली थीं क्योंकि वह हमेशा पब्लिक प्लेस पर दूरी बनाए रखते थे। 

PunjabKesari

शॉपिंग पर नहीं जा सकते अकेले

केट को शॉपिंग करना उतना ही पसंद है जितना किसी आम लड़की को होता हैं। हालांकि, वह शॉपिंग अकेले नहीं कर सकती। जी हां, डचेज़ को केवल प्रोटेक्शन ऑफिसर के साथ सुपरमार्केट और मॉडर्न लंदन बुटीक जाने की अनुमति है।

 

फर वाले ड्रेस पहनने पर मनाही

अपनी शादी से पहले केट फर पहनना पसंद करती थी। आप इंटरनेट पर उनके किए ऐसे फोटोज देख सकते है जिसमें उन्होंने फर कोट और फर केप पहन रखी होगीं। मगर अब डचेस फर वाले कपड़े कभी-कभार पहन सकती है और ऐसे कपड़े पहन सकती है जिनकी फर प्राकृतिक रुप से मरे हुए जानवरों से बनी हो।

PunjabKesari

कपड़ों से जुड़ी कॉन्ट्रोवर्सी से बचने का नियम 

कभी केट ट्रांसपेरेंट व यूथफुल स्टाइल पसंद करती थीं। मगर प्रिंसेस बनने के बाद वह मोडेस्ट व एलिगेंस ड्रेसेज पहन सकती हैं। किसी तरह की कॉन्ट्रोवर्सी से बचने के लिए स्टाइलिस्टों द्वारा उनकी ड्रेसेज को केयरफुल तरीके से डिजाइन किया जाता है। 

 

प्रिंसेस का मनॉपली खेलने पर बैन 

शाही नियमों के अनुसार, मनॉपली पर बैन है क्योंकि इस प्ले को शातिर और संवेदनहीन माना जाता है। मगर ऐसा लगता है कि केट इस खेल को खिलना बखूबी जानती थीं। बात है कि केट अभ हॉकी खेलती है जिसे वह सिर्फ पसंद करती हैं। 

PunjabKesari

बच्चों के साथ नहीं कर सकते प्लेन में सफर

यह शाही नियम पिछली शताब्दी में दिखाई दिया जब प्लेन पर उड़ान भरना बहुत खतरनाक था। यह नियम शाही वंश की रक्षा करने के लिए बनाया गया। मगर इस नियम की आजकल अक्सर उपेक्षा की जा रही है क्योंकि अब उड़ान भरते समय बहुत कम खतरा होता है।

 

हफ्ते में 3 बार ब्यूटी सैलून पर जाना

डचेस को हमेशा एलिगेंस दिखना और उसका परफेक्ट हेयरस्टाइल होना चाहिए। इससे उसे कम से कम हफ्ते में 3 बार ब्यूटी सैलून जाना चाहिए। हालांकि कि प्रिंस विलियम की पत्नी के इन ब्यूटी एक्सपेरिमेंट का पता किसी न चलता हो। 

PunjabKesari

गलत जगह नहीं सकते बैठ

शाही नियम फेयरी टेल की तरह है कौन मेरी कुर्सी पर बैठा है? मेरी प्लेट से कौन खा गया? शाही परिवार के सभी सदस्यों को बैठने के लिए सिर्फ पहले से निश्चित सीट बुक करनी होती है। वहीं, दूसरी तरफ जब क्वीन अपना खाना पूरा करें, तभी बाकी सभी को खाना बंद करना होता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उन्होंने भर पेट खाना खाया है या नहीं। 


 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by:

Latest News