Twitter
You are hererelationshipWedding special! पीले ही नहीं, ट्राई करें इन फूलों की वरमाला
1 of 11NextWedding special! पीले ही नहीं, ट्राई करें इन फूलों की वरमाला
Views:- Monday, March 20, 2017-5:56 PM

इंटीरियर डैकोरेशन: शादी के फंक्शन में जयमाला फंक्शन का अपना रोल होता है। भारतीय लोग इस रस्त को काफी महत्तव देते है। जयमाला में लड़का-लड़की बदल कर एक-दूसरे के गले में वरमाला डालते है, जो काफी सदियों से यह रस्म चली आ रही है। पहले समय में गेंदे को फूलों से बनी जयमाला पहनाया करते थे। धीरे-धीरे फैशन के हिसाब से लोगों का जयमाला स्टाइल भी काफी बदल गया हैं। आजकल लोग अलग-अलग फूलों जैसे गुलाब, डाहलिया, चमेली, आर्किड के फूलो से बनी वरमाला को पंसद कर रहे है। रॉयल वैडिंग में भी इसी का इस्तेमाल किया जा रहा हैं। इसका काफी ट्रैंड भी बना हुआ है। अगर आपकी शादी होने जा रही है तो आप भी ट्रैंडी वरमाला अपने पार्टनर को पहनाएं। इतना ही इन्ही बल्कि इसको आप अपने घर पर भी आसानी से खुद बना सकते है। इसके अलावा वरमाला का चुनाव करते समय कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। 


1. आकार और उसका भार

वरमाला का चुनाव करते समय उसके आकार और भार पर जरूर ध्यान दें क्योंकि ज्यादा हैवी और लॉन्ग वरमाला अनकंफर्टेबल होती है। इसलिए जयमाला की लैंथ मिडियम रखे।  

2. फ्लावर 

जयमाला में फ्लावर्स का काफी अहम रोल है। ऐसे फूलो का चुनाव करें जो आपके जयमाला फंक्शन पर इसका प्रभाव अलग ही दिखाई दे। ऐसे फ्लावर चूज करें जो आपकी वैडिंग थीम पर आधारित हो। वरमाला को गुलाब, डाहलिया, चमेली, आर्किड, मैरगॉल्ड्स(marigolds), मोग्रास(mogras) या लिली के फूलो से बनाएं। अगर आप बीच पर जयमाला फंक्शन कर रहे है तो प्लुमेरिया माला चुने। 

3.खुशबू

मोगरा लुक वाले फ्लावर काफी प्रिटी लगते है लेकिन इनकी खुशबू काफी तेज होती है। भले ही ये काफी सुगंधित हो, लेकिन फूलो का चुनाव अपनी जरूरत के अनुसार करें। जिनकी खुशबू ठीक-ठीक हो।  

4. कलर 

जयमाला का कलर आपकी पसंद पर निर्भर है। ऐसे कलर चुने जो आपकी शादी को यादगार बनाएं। वैसे तो आजकल काफी कलर की जयमाला ट्रैंड में है, आज अपनी पसंद के कलर और फ्लावर चूज कर सकती है।