You are hereNari

इन 5 वजहाें से महिलाअाें काे प्रेग्नेंसी में अाती है समस्या

इन 5 वजहाें से महिलाअाें काे प्रेग्नेंसी में अाती है समस्या
Views:- Tuesday, August 8, 2017-4:16 PM

अाजकल के समय में हमारा रहन-सहन, खानपान पहले के मुकाबले बहुत बदल गया है। हम ज्यादातर एेसी चीजें खाते हैं जाे कई तरह की बीमारियाें काे न्याैता देती है। शायद यही वजह है कि पहले के मुकाबले कई महिलाअाें काे प्रेग्नेंसी में मुश्किलें अाती है। इसके कई कारण हाे सकता हैं, तनाव, माेटापा व गर्भाश्‍य संबंधी समस्याएं। आज हम आपको एेसी ही कुछ समस्याअाें के बारे में बताने जा रहे हैं।

प्रेग्नेंसी में क्याें अाती है समस्याः-

- पीएच स्‍तर के बहुत अधिक या कम होने से अंडाणुओं के प्रजनन में मुश्किल अाती है।

- गर्भाश्‍य फाइब्रॉएड, ऊतकों पर निशान, संक्रमण, फैलोपियन ट्यूब संबंधित कोई समस्‍या, एंडोमेट्रियोसिस, पॉलिप्‍स और प्रजनन संबंधित अन्‍य किसी परेशानी के कारण गर्भधारण करने में देरी आती है। इसमें स्‍पर्म कोशिकाओं को अंडाणुओं तक पहुंचने में देरी लगती है जिसके कारण गर्भाधारण में समय लग जाता है। 
PunjabKesari

- पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) महिलाओं में प्रजनन से संबंधित एक हार्मोनल असंतुलन की समस्या है। इसकी वजह से ओवरी में छोटा अल्सर (सिस्ट) बना जाता है, जाे अंडाशय (ओवरी) में जमा हो जाता है और धीरे-धीरे बढ़ता जाता है। इस वजह से महिलाअाें काे गर्भ धारण करने में समस्या अाती है। 

- अत्‍यधिक शराब के सेवन, मोटापा, अधिक पतले हाेना या अनियमित माहवारी के कारण भी गर्भधारण करने में समस्‍या आती है। 
PunjabKesari

- 35 की उम्र के बाद भी गर्भधारण करने में मुश्किल आती है, क्याेंकि उम्र बढ़ने पर अंडाणुओं की गुणवत्ता में कमी आने लगती है और गर्भाश्‍य भी अंडाणुओं का निस्‍तार करने की क्षमता खोने लगता है।