Twitter
You are hereNari

फाइब्रॉइड की बीमारी में महिलाओं को मिलते है ये संकेत

फाइब्रॉइड की बीमारी में महिलाओं को मिलते है ये संकेत
Views:- Thursday, September 21, 2017-5:57 PM

आजकल के लाइफस्टाइल के कारण महिलाओं में कई गंभीर बीमारियां देखने को मिलती है। इन्हीं में से एक बीमारी फाइब्रॉइड यानी रसौली होने की भी है। अक्सर महिलाएं इस बीमारी के लक्षण को पहचान नहीं पाती जिससे रसौली के कारण महिलाओं बाझंपन के साथ-साथ कई और बीमारियां भी हो जाती है। आज हम आपको इस बीमारी के ऐसे लक्षण बताएंगे जिसे पहचान कर आप इस बीमारी से बच सकती है। आइए जानते है फाइब्रॉइड यानि रसौली के लक्षण।

1. ओवेल्यूशन पीरियड
इस बीमारी के होने पर ओवोल्यूशन पीरियड्स की समस्यां हो जाती है। कई बार इस बीमारी के कारण पीरियड्स महीने में दो बार आ जाते है। इसके अलावा पीरियड्स में ब्लीडिंग भी ज्यादा और गहरे लाल रंग की होती है और इस दौरान पेट में ऐंठन की समस्यां भी हो जाती है।

PunjabKesari

2. पेट में दर्द
फाइब्रॉइड की समस्यां के कारण महिलाओं को नाभि और पेट के निचले हिस्से में दर्द होने लगता है। इसके अलावा इसके कारण संभोग के समय दर्द, बार-बार मूत्रत्याग की इच्छा, बड़ी आंत पर दबाव और कब्ज जैसे अन्य लक्षण दिखाई देते है। ऐसे में आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

3. तनाव ग्रस्त
इसके कारण महिलाएं इतनी तनाव ग्रस्त हो जाती है कि उन्हें बेवजह ही गुस्सा आने लगता है। सामान्य तौर पर फाइब्रॉइड बनने का कारण इस्ट्रोजन हार्मोन है। अधिक उम्र की महिलाओं में इस बीमारी का खतरा सबसे ज्यादा होता है।

PunjabKesari

4. यूरिन इंफेक्शन
फाइब्रॉइड के कारण यूरिन इंफेक्शन हो जाता है जिससे आपको बार-बार बाथरुम आ सकता है। यूरिन इंफेक्शन क अलावा इस बीमारी के कारण कब्ज और एनीमिया की समस्या भी हो जाती है।

PunjabKesari

5. फाइब्रॉइड का इलाज
यदि फाइब्रॉइड का आकार 3 से 4 से.मी से कम है, तो ऐसे में हार्मोन थेरेपी और अन्य दवाओं के द्वारा इलाज किया जाता है। इससे बड़ा फाइब्रॉइड होने पर लैपरोस्कोपी के जरिए ऑपरेशन करके इसे निकाला जाता है।

PunjabKesari