Twitter
You are hereNari

अगर आपके बच्चे भी नहीं खाते लंचबॉक्स तो हो सकते हैं ये 3 कारण

अगर आपके बच्चे भी नहीं खाते लंचबॉक्स तो हो सकते हैं ये 3 कारण
Views:- Wednesday, May 16, 2018-4:29 PM

आप सुबह उठकर बच्चों के लिए मेहनत से लंच बनाती है लेकिन बच्चा उसे छूता तक नहीं और टिफिन को ऐसे ही घर ले आता है। हर मां के लिए यह सबसे बड़ी टेंशन है कि वह बच्चे को ऐसा क्या पैक करके दें कि वह उसे खुश होकर खा लें लेकिन फिर भी स्कूल से आने के बाद भी उसका टिफिन भरा हुआ ही होता है। अगर बच्‍चा स्‍कूल से लंच बॉक्‍स एेसे ही वापस ले आता है तो जरूरी नहीं कि खाना उसे पसंद न आया हो। इसके पीछे कुछ और कारण भी हो सकते हैं। आज हम आपको यही बताएंगे कि आखिर क्यों बच्चा स्कूल से टिफिन बॉकिस को भरा हुआ लाता है और वह भोजन नहीं करता।
 

इन वजहों से बच्चा स्कूल में नहीं खाता खाना

PunjabKesari
1. खेलने में लगे रहना
हर स्कूल में खाने की छुट्टी 20-30 मिनट की होती है, जिसमें बच्चे खेलना पसंद करते हैं। अपने खेल-कूद के चक्कर में ही बच्चे अक्सर अपना भोजन नहीं करते।
 

2. खाना सही न हो
बच्चे रोटी, हरी सब्जियां खाना पसंद नहीं करते। ऐसे में आप अगर उन्हें यही पैक करके देंगे तो वह कैसे खाएंगे। इसलिए अपने बच्चों के टिफिन में कुछ ऐसा पैक करें जो हैल्दी होने के साथ-साथ उन्हें पसंद भी हो। आप उन्हें डिब्बे में चीज क्यूब, कबाब, स्टिक्स या ढोकला दे सकती हैं।
 

3. दूसरे बच्चों का परेशान करना
स्कूल में अक्सर यह सब होता रहता है कि दूसरा स्ट्रांग बच्चा अपने से कमजोर बच्चे को परेशान करते है और उनका टिफिन खा जाते हैं। इसलिए इस बात का ख्याल रखें कि आपका बच्चा ठीक से खाना खा रहा है या नहीं। आप इस बारे में स्कूल प्रशासन से भी बात कर सकती हैं।
 

बच्चे के लंचबॉक्स को इस तरह बनाए अट्रैक्टिव

PunjabKesari
1. खाना बनाते समय बच्चों को आपके साथ हेल्प करने के लिए कहें। सब्जियों को काटने से लेकर पकाने तक के कामों में उन्हें मदद करने के लिए कहें। इसके अलावा बच्चों की पसंद अनुसार ही सब्जियां खरीदे। उन्हें हेल्दी चीजों की वैल्यू अच्छी तरह से समझाएं।
 

2. बच्चों को लंच बॉक्स में ज्यादातर सूखी चीजें पैक करके दें। बहुत छोटे बच्चों या प्री-स्कूलर्स के लिए आप खाने को मजेदार और सुंदर तरीके से खाना पैक करके दें। इसके अलावा उन्हें हर दिन नई-नई चीजें पैक करके दें।
 

3. बच्चों को टिफिन में वही चीजें पैक करके दें जो उन्हें पसंद हो। इसके अलावा उनके टिफिन में मौसम के अनुसार चीजें रखें।
 

4. बीच-बीच में बच्‍चों के दोस्तों और क्‍लास टीचर से पूछते रहना चाहिए कि जो खाना आप लंच बॉक्‍स में भेज रहे हैं उसे आपका बच्‍चा खा भी रहा है या नहीं। बच्‍चे को पॉकेट मनी दे कर बाहर कैंटीन से खाना खाने की आदन न डालें।


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP