Twitter
You are hereNari

मछली के कैप्सूल खाने से हो सकते हैं ये नुकसान

मछली के कैप्सूल खाने से हो सकते हैं ये नुकसान
Views:- Monday, November 20, 2017-4:08 PM

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड बहुत जरूरी है। खाद्य पदार्थों से इस कमी को पूरा किया जा सकता है। यह ट्यूना,हलिबेट, शैवाल, क्रिल्ल जैसी मछलियों में पाया जाता है। इस कमी को पूरा करने के लिए लोग फिश आयल सप्लीमेंट्स का सेवन भी करते हैं लेकिन कुछ लोगों के लिए यह कैप्सिल नुकसानदायक भी हो सकते हैं। जैसे पाचन क्रिया में गड़बड़ी,स्किन रैश,एलर्जी आदि। आइए जानें इससे होने वाले नुकसान। 


1. स्किन रैश
फिश स्पलीमेंट खाने के बाद स्किन पर किसी तरह के लाल निशान या रैशेज दिखाई दें तो इसका सेवन करना बंद कर दें। डॉक्टरी सलाह के बिना इसका सेवन न करें। 

2. कमर दर्द
मछली के तेल से बने कैप्सूल खाने शुरू किए है और इसके बाद कमर में दर्द की शिकायत हो रही है तो डॉक्टर से इस बारे में बात जरूर करें। 

3. खराब स्वाद
कैप्सूल खाने के बाद कई बार जीभ का स्वाद खराब हो जाता है। इसका कारण ये कैप्सूल भी हो सकते हैं। 

4. पेट खराब
बदहजमी,डायरिया,उल्टी की परेशानी है तो इन कैप्सूल का सेवन न करें। अपनी मर्जी से इसे न खाएं। 

5. डकार
कैप्सूल खाने के बाद पेट में गैस या डकार आ रहे हैं तो इनका सेवन बंद कर दें। यह इस तेल की वजह से भी हो सकता है। 

6. फ्लू
मछली के तेल से बने कैप्सूल पचाने में परेशानी होती है। कुछ लोगों को इसे खाने के बाद बुखार,छिंके,जुकाम या गले में खराश की परेशानी भी आ सकती है। 

 

फैशन हाे या ब्यूटी टिप, महिलाअाें से जुड़ी हर जानकारी के लिए डाउलनाेड करें NARI APP