Twitter
You are hereNari

इस एक दवा से महिला ने पाया एक्ने से छुटकारा, फायदे के साथ जानें इस ड्रग के साइड इफैक्ट

इस एक दवा से महिला ने पाया एक्ने से छुटकारा, फायदे के साथ जानें इस ड्रग के साइड इफैक्ट
Views:- Thursday, October 12, 2017-2:42 PM

खूबसूरत और बेदाग त्वचा हर महिला की पहली पसंद होती है। इसके लिए वे क्या कुछ नहीं करती लेकिन कुछ महिलाओं के चेहरे पर एक्ने की समस्या हो जाती है और स्किन पर लाल रंग के पिंपल्स निकल जाते हैं। ऐसी ही एक कली कुशनर नाम की लड़की है जिसका चेहरा एक्ने की वजह से काफी खराब हो चुका था लेकिन अब उसका फेस एक दम साफ हो चुका है। उसने इंस्टाग्राम पर अपनी पहले और बाद वाली सारी तस्वीरें पोस्ट की और इस समस्या से छुटकारा पाने के बारे में भी बताया।

कली कुशनर ने बताया कि एक समय था जब वह बाहर निकलने से पहले अपने पूरे चेहरे को ढक कर निकलती थी। उसने अपने चेहरे को साफ करने के लिए तेल, क्रीम और कई तरह की एंटीबॉयोटिक दवाओं का सेवन किया लेकिन इन सब से उसे कोई फर्क नहीं पड़ा। हार कर उसने एक त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लेकर एक्यूटेन नाम की दवा का सेवन करना शुरू किया जिससे कुछ ही हफ्तों में स्किन साफ होनी शुरू हो गई। एक्यूटेन नाम की यह दवा बिना किसी स्किन साइड इफैक्ट के एक्ने को एक दम साफ कर देती है लेकिन इसके कुछ बुरे प्रभाव जरूर देखने को मिलते हैं। ऐसे में इस दवा को लेने से पहले एक बार जरूर इसके दुष्प्रभावों के बारे में जान लें। 
PunjabKesari

दवा से होने वाले साइड इफैक्ट्स
1. प्रैग्नेंट महिलाओं के लिए एक्यूटेन नाम की यह दवा बहुत खतरनाक है। इससे होने वाले बच्चे पर बुरा असर पड़ता है। प्रैग्नेंसी के शुरूआती महीनों में इस दवा को लेने से मिस्कैरेज का खतरा भी रहता है। महिलाओं के साथ-साथ यह दवा पुरूषों के लिए खतरनाक साबित होती है।
2. एक्यूटेन मैडिसिन लेने से तनाव, थकान और दिमाग में आत्महत्या करने जैसे विचार आने लगते हैं।
3. इससे आंतों में सूजन, ब्लीडिंग और एसिडिटी की समस्या हो जाती है।
4. इस दवा में काफी मात्रा में विटामिन ए होता है जिससे यह लीवर को नुकसान पहुंचाने का काम भी करती है।
PunjabKesari
5. एक्यूनेट दवा लेने से शरीर और मांसपेशियों में दर्द होने लगता है।
6. इससे बालों का झड़ना काफी बढ़ जाता है।
7. अगर कोई व्यक्ति इस दवा का सेवन कर रहा है तो वह एक महीने तक किसी कोे ब्लड डोनेट नहीं कर सकता।
8. इस दवा से सुनने और आंखों की रोशनी पर भी बुरा असर पड़ता है।