Twitter
You are hereNari

किडनी से लेकर लीवर प्रॉब्लम तक, आंखों के रंग से जाने बीमारी

किडनी से लेकर लीवर प्रॉब्लम तक, आंखों के रंग से जाने बीमारी
Views:- Wednesday, May 16, 2018-10:17 AM

आजकल के बिगड़ते लाइफस्टाइल के कारण लोग किसी न किसी बीमारी के शिकार है। इन बीमारियों का पता लगाने के लिए लोग महंगे से मंहगा टेस्ट करवाते है, ताकि उन्हें समय पर बीमारियों का पता चल जाए। मगर क्या आप जानते है आपकी आंखे भी बीमारी के बारे में बताती है। आखों का रंग उसके पास-पास के हिस्सों की सूजन, बैग बनना, पलकों के अंदर का कलर और दाग-धब्बे हमें कई तरह की बीमारियों के बारे में संकेत देते हैं। इन संकेतों को देखकर आप बीपी से लेकर किडनी तक की बीमारियों के बारे में पता लगा सकते हैं। आइए जानते है किस तरह आपकी आंखे आपके शरीर से जुड़ी हर बीमारी के राज खोलते हैं।
 

आंखों से ऐसे जाने अपनी बीमारी

PunjabKesari
1. किडनी रोग या ब्लैडर का काम न करना
आंखों के नीचे लिक्विड या फिर म्यूकस का जमा होना किडनी रोग का संकेत हो सकता है। इसके अलावा आई बैग बनना भी इस बात का संकेत हो सकता है कि किडनी और ब्लैडर ठीक से काम नहीं कर रहे। ऐसे में आपको तुरंत चेकअप करवाना चाहिए।
 

2. किडनी फेल होना
अगर आंखों के नीचे बन रहे आई बैग पर काले निशान, स्पॉट या पिंपल आ जाएं तो यह किडनी फेल होने का संकेत है। कई बार यह समस्या न्यूट्रिशन डेफिशिएंसी की वजह से भी होती है लेकिन फिर भी एक बार चेकअप जरूर करवा लें।
 

3. ओवरी के रोग
ओवरी, यूटरस या प्रोस्टेट की प्रॉब्लम होने पर भी आंखों के नीचे आई बैग बन जाते हैं। इसके अलावा ओवरी में सिस्ट, यूटरस में गांठ और कैंसर होने पर भी आई बैग बन सकते हैं। इसलिए अगर आपको यह समस्या लंबे समय तक है तो डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें।
 

पलकों के नीचे का रंग से जानें बीमारी

PunjabKesari
1. ब्लड प्रैशर
नीचे वाली पलक के अंदर का गहरा लाल रंग ब्लड प्रैशर बढ़ने का संकेत हो सकता है। इसके अलावा ज्यादा शराब या शुगर के सेवन के कारण भी आंखों का रंग लाल हो जाता है।
 

2. कॉलेस्ट्रॉल बढ़ना
अगर आपकी पलकों का रंग सफेद है तो यह खून की कमी और कॉलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने संकेत हो सकता है। डॉक्टर से चेकअप करवाने के बाद अपनी डाइट में हैल्दी चीजें शामिल करें।
 

3. लीवर के रोग
आंखों के अंदर की पलकों का रंग अलग पीला है तो यह लीवर या पैंक्रियाज की गड़बड़ी का संकेत हो सकता है। ऐसे में आपको एक बार डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए।
 

4. दिल के रोग
दिल के रोगों का भी पता भी आप पलकों के कलर से लगा सकते हैं। पलकों का अंदर से गुलाबी पड़ना दिल के रोगों का संकेत होता है। इसके अलावा ब्लज सर्कुलेशन के ठीक से काम न करने का भी संकेत है।
 

आंखों के आसपास का रंग

PunjabKesari
काला रंग
आंखों के आसपास का रंग काला या गहरा होना किडनी की वीकनेस का संकेत हो सकता है। खून की कमी होने पर भी रंग ऐसा हो जाता है।
 

लाल रंग
आंखों की आसपास की त्वचा का लाल रंग यह बताता है कि आपके हार्ट पर ज्यादा लोड है। महिलाओं में पीरियड्स में गड़बड़ी होने पर भी ये संकेत दिखाई देता है।
 

पर्पल रंग
आंखों का पर्पल रंग बताता है कि सर्कुलेशन सिस्टम, एक्स्क्रटॉरी सिस्टम(उत्सर्जन तंत्र) ठीक से काम नहीं कर रहा।


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP