You are hereNari

ठंडक के साथ 5 बीमारियों को दूर रखता है सत्तू का शर्बत

ठंडक के साथ 5 बीमारियों को दूर रखता है सत्तू का शर्बत
Views:- Thursday, May 18, 2017-9:18 AM

पंजाब केसरी (सेहत) : गर्मियों का मौसम आ गया है और इन दिनों में लू लगना आम बात है। यदि हम इस सीजन में कुछ एेसा खाएं कि हमारे शरीर को अंदर से ठंडक मिले तो हम गर्मी के होने वाले दुष्प्रभावों से बच जाएंगे। इसके लिए आप गर्मियों में रोजाना जौ का पानी यानि कि सत्तू का शर्बत पी सकते हैं। इसको आप गर्मियों का तोहफा भी कह सकते हो। इसके हमारे शरीर को चमत्कारिक लाभ मिलते हैं। यह बाजार में तैयार मिलता है बस आप इसे घर पर लाकर पानी में घोलकर और मिश्री डालकर पी सकते हैं। आप चाहें तो इसमें नींबू भी डाल सकते हैं।

PunjabKesari
1.लू से बचाता
गर्मी में सत्तू के शर्बत का सेवन हमें लू लगने से बचाता है। इसकी तासीर काफी ठंडी होती है जिससे शरीर में ठंडक पैदा होती है।
2. मूत्र रोगों में लाभकारी
गर्मी में अकसर लोगों कोे मूत्र संबंधी समस्याएं हो जाती हैं लेकिन यदि गर्मी में सत्तू का सेवन किया जाए तो यह बेकार पानी और विषैले पदार्थों को मूत्र द्वारा शरीर से बाहर निकाल देता है।
3.जोड़ों का दर्द 
जौ में एंटी-इंफ्लामेंट्री गुण होते हैं। जिससे गठिया और जोड़ों के दर्द से पीड़ित लोगों को जौ के पानी से बेमिसाल फायदे मिलते हैं।
4. मोटापा कम करने में सहायक
अगर आपको बार-बार भूख लगती है या फिर आप लंबे समय तक भूखे नहीं रह सकते तो सत्तू आपके लिए लाभदायक है। इसे खाने या फिर इसका शर्बत पीने के बाद लंबे समय तक आपको भूख का एहसास नहीं होगा। जिससे मोटापा कंट्रोल होने लगता है।  
5. फाइबर से भरपूर
सत्तू में फाइबर काफी ज्यादा पाया जाता है। जिससे इसका रोज सेवन करने से बवासीर,कब्ज जैसी बीमारी भी खत्म हो जाती है।
6. डायबिटीज
सत्तू का बीटा-ग्लूकेन तत्व शरीर में ग्लूकोज के अवशोषण को कम करता है जिससे ब्लड शुगर लेवल ठीक रहता है। यदि शुगर के रोगी इसका सेवन करते हैं तो उनका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। लेकिन उन्हें इसका शर्बत बनाते हुए चीनी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
7.पत्थरी दूर करे
किडनी की पत्थरी के लिए भी यह अचूक औषधि है। एक गिलास जौ के पानी(सत्तू) का रोजाना सेवन करने से किडनी की पत्थरी शरीर से बाहर निकल जाती है।