Twitter
You are hereNari

वायरल फीवर हो गया हैं तो ऐसे करें घरेलू उपचार

वायरल फीवर हो गया हैं तो ऐसे करें घरेलू उपचार
Views:- Sunday, March 18, 2018-4:19 PM

वायरल फीवर यानि मौसम में बदलाव के कारण होने वाला बुखार। यह फीवर सूक्ष्म जीवाणु या वायरस के कारण होता है। इस बुखार के होने से शरीर में रोग प्रतिरोधक खत्म होने लगती है। रोगी को बहुत ज्यादा सिर दर्द, हाथ पैर में दर्द और बदन में दर्द रहता है। यह बुखार एक इंसान से दूसरे इंसान में बहुत जल्दी फैलता है। बच्चे इस बुखार से बहुत जल्दी ग्रसित होते हैं। अगर आपका बुखार पांच दिन के अंदर ठीक नहीं होता तो आपको ब्लड टेस्ट जरूर कराना चाहिए ताकि यह खतरनाक न बन जाएं। आज हम आपको इस बुखार के लक्षण और आयुवेर्दिक उपाय बताएंगे, जिसे इस्तेमाल करके आप ठीक हो सकते हैं।

वायरल फीवर के लक्षण

PunjabKesari

खांसी होना और गले में दर्द रहना।
सिर दर्द, पेट दर्द, बदन में दर्द और हर वक्त थकावट महसूस करना।
हाथ और पैरों के जोड़ में दर्द और कमजोर होना।
उल्टी और दस्त लगना।
आंखो का लाल होना और माथा बहुत ज्यादा गर्म होना।

वायरल फीवर के घरेलू उपचार
1. हल्दी और सौंठ का इस्तेमाल

PunjabKesari
सौंठ में बहुत मात्रा में एंटी आक्सिडेंट गुण पाए जाते हैं जो बुखार को ठीक करने में मदद करते है। 
सामग्री
काली मिर्च का चूर्ण- 1 चम्मच
हल्दी का चूर्ण- 1 छोटी चम्मच
सौंठ- 1 चम्मच
पानी- 1 कप
चीनी- थोड़ी-सी
विधि
सभी सामग्री को बर्तन में लेकर तब तक उबालें जब तक यह आधा न हो जाए। अब इसे ठंडा करके पीएं। इससे फीवर को आराम मिलता है। 

2. तुलसी भी है फायदेमंद
तुलसी में एंटीबायोटिक गुण पाए जाते है जो शरीर से वायरस को खत्म कर देती है।
इसके इस्तेमाल के लिए बर्तन में एक लीटर पानी, एक चम्मच लौंग का चूर्ण और दस से पंद्रह तुलसी के ताजे पत्ते डाल कर अच्छी तरह से उबालें। जब तक यह आधा न रह जाएं। इस पानी को ठंडा करके हर घंटे में रोगी को पिलाएं।

3. धनिए की चाय

PunjabKesari
धनिया सेहत के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। बुखार को खत्म करने के लिए इसकी चाय बना कर रोगी को पिलानी चाहिए।

ऐसे बनाएं चाय
इसकी चाय बनाने के लिए एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच धनिए के बीज डाल कर उबालें। फिर इसमें थोड़ा-सा दूध और चीनी डालें और दोबारा उबालें। अब गर्मा-गर्म चाय रोगी को पिलाएं।

4. मेथी का पानी
वायरल बुखार के रोगी के लिए मेथी का पानी भी काफी फायदेमंद होता है। मेथी में वायरल बुखार को रोकने की क्षमता होती है। इसके इस्तेमाल के लिए पानी में मेथी के दानों को भिगो कर रख दें। अगले दिन यह पानी रोगी को घंटे-घंटे बाद पिलाते रहे।

5. सफेद नमक, अजवाइन और नींबू का इस्तेमाल
इसे इस्तेमाल करने के लिए एक छोटा चम्मच सफेद नमक और अजवाइन को तब तक भूनें, जब तक इसका रंग न बदल जाएं। अब इसे एक गिलास पानी में मिक्स करें। फिर इसमें नींबू निचोड़ कर दिन में दो या तीन बार पीएं।


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

Latest News