Twitter
You are hereNari

वायरल बुखार से बचना है तो अपनाएं ये घरेलू उपचार

वायरल बुखार से बचना है तो अपनाएं ये घरेलू उपचार
Views:- Sunday, November 5, 2017-5:00 PM

इस मौसम में वायरल बुखार होना आम है। वायरल फीवर इम्यून सिस्टम को कमजोर कर देता है, जिससे शरीर में तेजी से इंफैक्शन बढ़ता जाता है। वायरल फीवर में बॉडी का टेम्प्रेचर बढ़ने के साथ गले में दर्द, खांसी, सिर दर्द, थकान, जोड़ों में दर्द और आंखों का लाल होना अन्य जैसे संकेत दिखने लगते है। ऐसे में जरूरी है कि कुछ जरूरी बातों पर ध्यान रख कर वायरल फीवर से बचा जा सकता है। 

 

ध्यान रखें जरूरी बातें:-
- पानी को हमेशा उबाल कर या प्यूरीफाय पानी पिएं। 
- खांसते या छींकते समय मुंह पर रुमाल रखें। 
- अपना टॉवल अलग रखें। 
- बाहर का खाना बिल्कुल न खाएं।
- बाहर जाते समय हमेशा अपना मुंह और नाक ढक लें। 
- किसी भीड़ वाली जगह पर जाने से बचें।

घरेलू नुस्खों से करें वायरल बुखार कम :-
- आलू

PunjabKesari
आलू के टुकड़ों को विनेगर में भिगोएं और फिर किसी साफ कपड़ें पर लपेटकर माथे पर रखें। बुखार कम होगा। 

- नींबू
नींबू के टुकड़े अपने तलवों पर रगड़ें या फिर मोजे में नींबू का टुकड़ा डालकर रातभर ऐसे ही रखें। राहत मिलेगी। 

- लहसुन

 PunjabKesari
लहसुन का पेस्ट बनाकर उसमें शहद मिला लें। इसके अलावा लहसुन की कलियों को सरसों तेल में तलकर, उससे तलवो की मालिश करें। 

- तुलसी 
4-5 गिलास पानी में तुलसी की 30-45 पत्तियां मिलाएं। फिर उसमें अदरक और 4-5 लौंग मिलाकर उबाल लें। दिन में हर 2 घंटे बाद इस पानी का सेवन करें। 

- नीम

PunjabKesari
नीम की पत्तियों को चबाए या फिर नीम की पत्तियों में पानी में उबालकर उस पानी से नहाएं। बुखार में काफी आराम मिलेगा।