Twitter
You are hereNari

बच्चाें काे लेकर क्या अाप भी करते हैं ये गलती

बच्चाें काे लेकर क्या अाप भी करते हैं ये गलती
Views:- Tuesday, August 8, 2017-12:51 PM

कई माता-पिता अकसर अपने बच्चाें काे दूसराें के साथ कंपेयर करते है। देखाे शर्मा का बेटा पढ़ाई में कितना तेज है और तुम ताे मुश्किल से पास हाे पाते हाे। सारा दिन खेलना, घूमना बस यही करते हाे, कभी मन लगाकर पढ़ भी लिया कराे। अगर बच्चा अच्छे नंबर लाए तब भी उस पर और अधिक नंबर लाने का दवाब डाला जाता है। जाेेकि सरासर गलत है। हर बच्चा दूसरे से अलग हाेता है। उनकी साेच, उनके शाैक अलग हाेते हैं। जरूरी नहीं जाे बच्चा पढ़ाई में अच्छा न हाे ताे वाे नालायक है, एेसा भी ताे हाे सकता है कि वह स्पाेर्टस, पेंटिंग या किसी अन्य कला में अच्छा हाे। बस जरूरत है ताे उसकी कला काे पहचानने और उसे निखारने की, फिर देखिए कैसे अापका बच्चा अापका नाम राेशन करता है। माता-पिता काे एेसी गलतियां करने से बचना चाहिए, जाे उनके बच्चे के मन और मस्तिष्क पर नकारात्मक प्रभाव डालती हाे।
PunjabKesari
माता-पिता जब रोज़-रोज़ बच्‍चों को उनकी पढ़ाई या करियर के लिए ताने मारने लगते हैं तो इसका बच्‍चों पर बुरा असर पड़ता है। कई बार ताे बच्चे डिप्रैशन में अा जाते है या परिवार से अलग-अलग रहने लगते है। इससे माता-पिता खुद ही अपना हंसता-खेलता परिवार खाे देते हैं। कुछ माता-पिता एेसे भी हाेते हैं, जाे चाहते है कि उनका सपना उनका बच्चा पूरा करे। लेकिन हम ये भूल जाते है कि हमारा बच्चा क्या चाहता है। उसके भी ताे अपने सपने हाेंगे। कैसे हम अपनी साेच उस पर थाेप सकते है। इसलिए बच्चाें से उनकी राय जाने बिना कभी अपनी राय उन पर न थाेपे। ताकि अापका बच्चा हमेशा खुश रहे और परिवार में खुशहाली बनी रहे।