Twitter
You are hereNari

दूसरी बार मां न बनने की ये तो नहीं वजह!

1 of 2Nextदूसरी बार मां न बनने की ये तो नहीं वजह!
Views:- Friday, February 17, 2017-5:06 PM

पेरेंटिंग:  मां बनने का एहसास हर औरत के लिए सबसे खास है। कोई भी औरत जब पहली बार मां बनती है तो उसके सारे सपने जैसे पूरे हो जाते है। पर जब एक बच्चे के बाद वो दूसरी बार प्रैंग्नेंसी चाहती है तो बहुत सी औरतों को काफी परेशनियों का सामना करते हुए निराशा का सामना करना पड़ता है। गर्भधारण की सही उम्र 27 से 32 साल ही मानी जाती है। इस आयु के बाद गर्भधारण में आने वाली समस्याओं के पीछे नीचे दिए गए कारण हो सकते हैं।


1. मोटापा
पहले बच्चे के बाद अधिकतर औरतों का वजन बढ़ जाता है। जिन्हें मां बनने के बाद अकसर औरतें कम नहीं कर पाती। ऐसे में दूसरी बार गर्भधारण करने में अधिक वजन मुश्किल खड़ी करता है। इसके अलावा मोटापा कई दूसरी बीमारियों का भी कारण बनता है। 


2. दवाओं को सेवन
डिलीवरी के समय सभी औरतों को ही काफी दवाइयों का सेवन करना पड़ता है। जिनके बहुत से साइड-इफैकट होते हैं जो बाद में परेशानी करते है। यही नहीं कई बार गर्भनिरोधक गोलियों के प्रयोग से भी दूसरी बार गर्भधारण करने में समस्या आती है। 


3. असामान्य ओवयूलेशन
गर्भधारण करने में ओवूलेशन का अहम योगदान होता है। पीरियड के बाद दूसरे सप्ताह का समय ओवूलेशन का होता है। इस दौरान शारीरिक संबंध बनाने से गर्भधारण होता है। लेकिन पहली प्रेगनेंसी के बाद ओवूलेशन का समय अनियमित हो जाता है और महिला को दूसरी बार गर्भधारण में समस्या होती है।


4. कम व्यायाम
पहले बच्चे में बिजी रहने के कारण मां को अपने लिए समय नहीं मिलता और जिससे उसकी रूटीन काफी अपसैट रहती है। फिर वो व्यायाम,योगा के लिए भी समय नहीं निकाल पाती। इन सबका भी दूसरी प्रैंग्नेंसी में काफी असर पड़ता है।


5. छुपाने के कारण
पहली बार मां बन चुकी महिलाएं जब दूसरी बार चांस लेती है तो जो कठिनाइयां उन्हें आती हैं वे इसके बारे में दूसरों से चर्चा करने में हिचकिचाती हैं। जबकि दूसरी बार गर्भधारण करने के दौरान नियमित रूप से चिकित्सक की सलाह और देखभाल की जरूरत पड़ती है।